सोलर इनर्जी का बिजनेस सरकार के साथ कैसे शुरू करें, जानें

सोलर पैनल के द्वारा लंबे समय तक फ्री बिजली का उत्पादन किया जा सकता है, इनके द्वारा व्यवसाय कर आप आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकता है।

Published By SOLAR DUKAN

Published on

सौर ऊर्जा का प्रयोग वर्तमान में अनेक तकनीकों में किया जा रहा है, जिसके लिए बाजारों में आधुनिक तकनीक के सोलर उपकरण आ रहे हैं। जिनके प्रयोग से सौर ऊर्जा का उपयोग किया जा सकता हैं। जैसे सोलर पैनल किसी भी सोलर उपकरण में सबसे महत्वपूर्ण होते हैं। सोलर पैनल के द्वारा सूर्य से आने वाली सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है।

इस आर्टिकल में हमारे द्वारा आपको सौर उर्जा का बिज़नेस (Business by Solar Energy) सरकार के साथ की जानकारी दी जाएगी। सभी सरकारें नवीकरणीय ऊर्जा (सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा) के महत्व को समझते हुए उनके अधिक से अधिक प्रयोग के लिए अपने नागरिकों को प्रोत्साहन प्रदान कर रही हैं। ऐसे में भारत की सरकार द्वारा भी अपने नागरिकों को सोलर उपकरणों के प्रयोग के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

सोलर इनर्जी का बिजनेस सरकार के साथ कैसे शुरू करें, जानें
सौर उर्जा का बिज़नेस सरकार के साथ कैसे शुरू करें

सोलर इनर्जी का बिजनेस सरकार के साथ

भारत सरकार द्वारा सोलर सिस्टम को स्थापित करने वाले नागरिकों के लिए अनुदान की योजनाओं की शुरुआत की गई है। जिनमें सरकार सोलर उपकरणों को स्थापित करने के लिए नागरिकों को आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है। जिसे प्राप्त करने के लिए आपको सौर ऊर्जा एवं योजना दोनों की ही जानकारी का होना आवश्यक है। सौर ऊर्जा को भविष्य की ऊर्जा भी कहते हैं।

इसका प्रयोग कर पर्यावरण के अनुकूल बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। योजनाओं की जानकारी आप ऑनलाइन पोर्टल से प्राप्त कर सकते हैं। अन्य सोलर संबंधी व्यवसायों को करने में भी सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके अतिरिक्त SME के अंतर्गत पंजीकृत बैंकों से नागरिकों को ऋण प्रदान किया जाता है। सरकार द्वारा रुफटॉप सोलर योजना, कुसुम योजना आदि योजनाओं को संचालित किया जाता है।

छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए प्राप्त करें सब्सिडी

घर पर सोलर सिस्टम को स्थापित करने पर सरकार द्वारा आपको आर्थिक सहायता दी जाती है, छत पर सोलर पैनल को स्थापित करने में उपभोक्ता रुफटॉप सोलर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, इसमें सरकार द्वारा 1 किलोवाट से 3 किलोवाट तक के सोलर पैनल को लगाने पर 40% की सब्सिडी प्रदान की जाती है, एवं 3 किलोवाट से 10 किलोवाट तक के सोलर पैनल को स्थापित करने पर 20% की सब्सिडी नागरिकों को प्रदान की जाती है।

यह भी देखें:7 Kw एडवांस टेक्नोलॉजी सोलर पैक लगाने का खर्चा देखें

7 Kw एडवांस टेक्नोलॉजी सोलर पैक लगाने का खर्चा देखें

जिस से इन्हें खरीदने एवं स्थापित करने में उपभोक्ता को लाभ प्राप्त होता है। इसलिए सरकार द्वारा प्राप्त सब्सिडी का लाभ नागरिकों को जरूर करना चाहिए। इसके लिए ऑन-ग्रिड सोलर सिस्टम को स्थापित करना होता है। जिसमें सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को सीधा सोलर पैनल के साथ सांझा किया जाता है। ऐसा करने पर उपभोक्ता अपने बिजली के बिल का या तो कम प्राप्त करते हैं या फ्री बिजली को प्राप्त करते हैं। अधिक बिजली उत्पादन पर आप ग्रिड से आर्थिक लाभ भी प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी देखें: 1 किलो वाट सोलर सिस्टम पर कितना लोड चला सकते हैं, कीमत क्या और कैसे काम करता है

सोलर व्यवसाय के लिए सहायता

यदि आप किसी सौर ऊर्जा से संबंधित किसी भी उपकरण का व्यवसाय करना चाहते हैं तो उस से पहले आपको सोलर उपकरणों की बाजार में मांग की जानकारी प्राप्त करनी है। जिस से आप किस प्रकार के व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं यह समझ सकते हैं। सोलर पैनल से लेकर सोलर लाइट तक के अनेकों उपकरणों का व्यवसाय किया जा सकता हैं, इन्हें कम निवेश पर भी स्थापित किया जा सकता है।

सरकार द्वारा प्रदान होने वाली सब्सिडी की सहायता से भी इन्हें स्थापित किया जा सकता है। SME के अंतर्गत स्थापित किए जाने वाले व्यवसायों पर आसानी से लोन प्राप्त हो जाता है। इन व्यवसायों में सोलर पैनल का व्यापार, सोलर उपकरणों का व्यापार, सोलर उपकरणों का रखरखाव एवं सफाई का व्यापार, सोलर सलाहकार आदि प्रकार के व्यवसाय किए जा सकते हैं। एवं लंबे समय तक इन व्यवसायों से लाभ की प्राप्ति की जा सकती है, जिस से आप आर्थिक रूप से मजबूत होते हैं।

निष्कर्ष

सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्राप्त करने के लिए आपको जागरूक होना चाहिए। जिस से आप अपने सोलर प्लांट को स्थापित करने पर सरकारी सब्सिडी को प्राप्त कर सकते हैं। सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली यह वित्तीय सहायता आपके सोलर सिस्टम को मजबूत करने में सहायक होती है। सौर ऊर्जा के उपकरणों का प्रयोग कर के हरित भविष्य की कल्पना की जा सकती है, जिसका कारण यह है कि यह जीवाश्म ईंधन की निर्भरता को करता है। एवं कार्बन फुटप्रिन्ट को कम करने में सहायता करता है। सौर ऊर्जा के माध्यम से नागरिक आर्थिक रूप से भी सक्षम हो सकता है।

नवीनतम लेख देखें:

यह भी देखें:150 ah बैटरी को चार्ज करने के लिए कितने watt का सोलर चाहिए

150 ah बैटरी को चार्ज करने के लिए कितने watt का सोलर चाहिए

4 thoughts on “सोलर इनर्जी का बिजनेस सरकार के साथ कैसे शुरू करें, जानें”

  1. मै घरेलू और व्यवसायिक गतिविधि में सोलर प्लांट लगाने का व्यवसाय शुरू करना चाहता हूं

    Reply
  2. मैं अपना सोलर पैनल व्यापार शुरू करना
    चाहता हू कृपया डिटेल में जानकारी दे
    महान कृपा होगी

    Reply

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें

Garden Wall Light मोशन सेंसर के साथ केवल 269 रुपये में मिल रही 5 किलोवाट सोलर सिस्टम की कीमत देखें छत पर सोलर सिस्टम लगवाने से बिजली का बिल कैसे कम होता है? जानें बिजली के बिल कम करें: 2024 में सोलर पैनल कैसे आपकी बचत को बढ़ा सकते हैं सोलर पंप लगवाने के लिए सब्सिडी कैसे मिलती है?