1 HP सोलर वाटर पंप लगाने में आएगा इतना खर्चा, मिलेगी सरकारी सब्सिडी?

सोलर वाटर पंप स्थापित कर के कृषि को आधुनिक ढंग से किया जा सकता है, सरकार द्वारा सोलर वाटर पंप लगाने के लिए सब्सिडी दी जा रही है।

Published By News Desk

Published on

1 HP सोलर वाटर पंप लगाने में कितना खर्च आएगा, क्या मिलेगी सरकारी सब्सिडी?

बिजली की आवश्यकता आज के समय के एक जरूरत बन गई है, अधिकांश उपकरण बिजली के माध्यम से चलाए जाते हैं, बिजली की बढ़ती आवश्यकताओं के साथ में बिजली का बिल भी तेजी से बढ़ता है। बिजली के बिल से राहत प्राप्त करने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग किया जा सकता है, सोलर पैनल पर्यावरण को बिना प्रदूषित किए अनुकूल प्रक्रिया के माध्यम से बिजली का उत्पादन करते हैं। सूर्य से प्राप्त होने वाली सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलने का कार्य सोलर पैनल करते हैं।

कृषि के क्षेत्र में सिंचाई करने के लिए जीवाश्म ईंधन से चलने वाले वाटर पंप का प्रयोग किया जाता है, ऐसे पंप को चलाने से प्रदूषण भारी मात्रा में होता है, साथ ही जीवाश्म ईंधन के बढ़ते रेट के कारण किसानों को आर्थिक नुकसान भी होता है। दूसरी ओर ग्रिड बिजली से चलने वाले वाटर पंप का प्रयोग करने से अधिक बिजली का बिल प्राप्त होता है। बिजली की समस्याओं को समाप्त करने के लिए पर्यावरण के अनुकूल कार्य करने वाले सोलर वाटर पंप का प्रयोग किया जा सकता है। इनके द्वारा कृषि को आधुनिक रूप से विकसित किया जाता है।

HP सोलर वाटर पंप

सोलर वाटर पंप का प्रयोग करने से किसानों को कृषि में सिंचाई करने में आसानी होती है, एवं अनेक लाभ उसमें लगे सोलर पैनल के द्वारा प्राप्त होते हैं। एक बार इस सिस्टम को स्थापित करने के बाद फ्री में बिजली प्राप्त की जा सकती है। सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को कृषि के ऑफ-सीजन में ग्रिड को बेच सकते हैं। जिससे आर्थिक लाभ भी प्राप्त किया जा सकता है। किसान अपने कृषि क्षेत्र में सोलर वाटर पंप लगाने के लिए सरकार द्वारा चलाई गई पीएम कुसुम योजना द्वारा सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं। ऐसे में कम कीमत में सोलर वाटर पंप स्थापित किया जा सकता है।

एक पूरे सोलर वाटर पंप सिस्टम में प्रयोग होने वाले मुख्य उपकरणों में सोलर पैनल, सोलर वाटर पंप एवं VFD ड्राइव प्रमुख हैं। सोलर वाटर सिस्टम को स्थापित करने के लिए किसी एक्सपर्ट की सहायता प्राप्त करनी चाहिए, जिस से यह लंबे समय तक सही ढंग से कार्य करे। बाजार में अनेक ब्रांड के सोलर वाटर पंप उपलब्ध हैं, किसी विश्वसनीय ब्रांड के सोलर उपकरण का ही प्रयोग करना चाहिए, जिससे उनमें किसी प्रकार की खराबी आने पर आप आसानी से उन्हें ठीक कर सकते हैं।

सोलर वाटर पंप के प्रकार

आज के समय में बाजार में अनेक एडवांस तकनीक के एवं अनेक प्रकार के सोलर वाटर पंप उपलब्ध हैं, सोलर वाटर पंप का चयन उपभोक्ता अपनी आवश्यकता एवं बजट के अनुसार कर सकते हैं। सोलर वाटर पंप AC एवं DC के प्रयोग से चलने वाले होते हैं, इनका प्रयोग इनके अनुसार ही अलग-अलग भी रहता है। सोलर ब्रांड के ब्रांड, क्षमता एवं प्रकार उनकी कीमत को निर्धारित करने वाले मुख्य कारक होते हैं, सोलर पैनल निम्न दो प्रकार के होते है:-

यह भी देखें:Solar Pump Price 2024: किसान के लिए बड़ा ऑफर सोलर पंप का प्राइस बहुत कम हो गया है जाने 3,5,7.5,10 HP की कीमत

Solar Pump Price: किसानों के लिए बड़ा ऑफर, जानें 3,5,7.5,10 HP की कीमत

  • AC सबमर्सिबल पंप– इस प्रकार के पंप का प्रयोग अधिक गहराई वाले स्थानों में किया जाता है, ये कुशल वाटर पंप होते हैं। ऐसे सोलर पंप को कम रखरखाव की आवश्यकता होती है। यदि इन्हे बनाने में स्टेटर कॉइल वाइंडिंग एल्यूमीनियम का प्रयोग किया गया हो तो ऐसे में अधिक रखरखाव करना होता है। एसी सबमर्सिबल पंप की विश्वसनीयता अधिक होती है।
  • DC सबमर्सिबल पंप– इनका प्रयोग कम गहराई वाले स्थानों में किया जाता है, इन पंपों में AC सबमर्सिबल पंप की तुलना में कम विद्युत घटक होते हैं। इसलिए इनमें कम खराबी होने की संभावनाएं रहती हैं। जब मौसम पूरी तरह से साफ होता है तो ऐसे में इस प्रकार के सोलर वाटर पंप एसी सबमर्सिबल पंप की तुलना में उच्च प्रदर्शन कर सकते हैं।

1 HP सोलर वाटर पंप लगाने में होने वाला खर्च देखें

एक सोलर वाटर पंप की क्षमता horse power HP में होती है, सोलर वाटर पंप की कीमत कई कारकों के अनुसार अलग-अलग होती है। सोलर वाटर पंप सिस्टम में लगने वाले सोलर पैनल एवं VFD ड्राइव की कीमत अलग-अलग रहती है। सामान्यतः एक स्टैन्डर्ड 1 HP सोलर वाटर पंप की कीमत लघट 7 हजार रुपये से 8 हजार रुपये तक होती है। सोलर पैनल द्वारा DC रूप में बिजली का निर्माण किया जाता है, ऐसे में यदि सोलर पंप AC के माध्यम से चलने वाले हो तो सिस्टम में इंवर्टर भी स्थापित किया जाता है। जिसकी कीमत लगभग 8 हजार से 9 हजार रुपये तक होती है।

1 किलोवाट क्षमता के पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की कीमत लगभग 30 हजार रुपये तक होती है, सोलर पैनल किसी भी सोलर उपकरण का सबसे महत्वपूर्ण उपकरण होता है, यदि बिजली प्रदान करने का कार्य करता है। इस प्रकार 1 HP सोलर वाटर पंप को लगाने में होने वाला कुल खर्च लगभग 50 हजार रुपये तक होता है। इस कुल खर्चे में स्थापना शुल्क को नहीं जोड़ा गया है, क्योंकि स्थापना शुल्क स्थान के अनुसार अलग-अलग हो सकता है। सोलर पंप लगाने में लगभग 60% सब्सिडी प्रदान की जाती है।

सोलर उपकरणों पर किया जाने वाला निवेश बुद्धिमानी का निवेश कहा जाता है, यदि आप कम कीमत में सोलर वाटर पंप को स्थापित करना चाहते हैं तो ऐसे में केंद्र सरकार की पीएम कुसुम योजना का आवेदन कर सकते हैं। एक बार सही से सोलर सिस्टम स्थापित करने के बाद लंबे समय तक इनका लाभ प्राप्त किया जा सकता है। सोलर उपकरणों के अधिक प्रयोग से ही हरित भविष्य की कल्पना को साकार किया जा सकता है, क्योंकि सोलर उपकरणों के प्रयोग से कार्बन फुटप्रिन्ट को कम करने में सहायता मिलती है।

यह भी देखें:Haryana Solar Pump Yojana: किसानों के लिए सुनहरा अवसर, सरकार 75% सब्सिडी पर दे रही सोलर पंप, ऑनलाइन आवेदन

Haryana Solar Pump Yojana: किसानों के लिए सुनहरा अवसर, सरकार 75% सब्सिडी पर दे रही सोलर पंप, ऑनलाइन आवेदन

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें