150 km का माइलेज और 15 साल चलेगी ये नार्मल से भी सस्ती बैटरी, e Rickshaw Battery

यदि आप इस बैटरी को अपने ई -रिक्शे पर इस्तेमाल करते है तो आपको 15 साल की वारंटी मिलती है, जिसमें पहले 3 साल में किसी भी प्रकार की खराबी आने पर बैटरी मुफ्त में बदल दी जाती है। अगले 12 सालों में यदि बैटरी में कोई समस्या आती है, तो नई बैटरी पर 50% डिस्काउंट मिलता है।

Published By News Desk

Published on

e rickshaw battery: ई-रिक्शा मालिकों के लिए बैटरी का मेंटेनेंस और उसे बार-बार बदलने की जरूरत एक आम समस्या है। लेकिन, आधुनिक तकनीक ने इस समस्या का एक सस्ता और कारगर समाधान लेकर आई है, जो न केवल मेंटेनेंस को कम करता है बल्कि लंबी अवधि तक चलने वाला समाधान भी प्रदान करता है।

150 km का माइलेज और 15 साल चलेगी ये नार्मल से भी सस्ती बैटरी
150 km का माइलेज और 15 साल चलेगी ये नार्मल से भी सस्ती बैटरी

Nexus3 फास्फेट की बैटरी 

Nexus3 फॉस्फेट की बैटरी, जिसे आमतौर पर लिथियम आयरन फॉस्फेट (LiFePO4) बैटरी के नाम से जाना जाता है, एक प्रकार की लिथियम-आयन बैटरी है। इसका मुख्य घटक लिथियम आयरन फॉस्फेट होता है। यह बैटरी अपने उच्च सुरक्षा मानकों, लंबी चक्र जीवन (cycle life), और स्थिर विद्युत आउटपुट के कारण प्रसिद्ध है।

यदि आप इस बैटरी को अपने ई -रिक्शे पर इस्तेमाल करते है तो आपको 15 साल की वारंटी मिलती है, जिसमें पहले 3 साल में किसी भी प्रकार की खराबी आने पर बैटरी मुफ्त में बदल दी जाती है। अगले 12 सालों में यदि बैटरी में कोई समस्या आती है, तो नई बैटरी पर 50% डिस्काउंट मिलता है।

लिथियम आयरन फॉस्फेट बैटरी की विशेषताएँ

  • बैटरी का कम मेंटेनेंस: इस नई बैटरी के साथ, ई-रिक्शा मालिकों को हर महीने बैटरी के टर्मिनल्स पर सल्फेट की सफाई या हर तीन महीने पर पानी डालने जैसे मेंटेनेंस कार्य नहीं करने पड़ते। इससे उनके समय और पैसे दोनों की बचत होती है।
  • उच्च प्रदर्शन और लंबी जीवन अवधि: यह बैटरी 100 से 150 किलोमीटर तक चल सकती है और इसे 10 से 12 साल तक बिना किसी देखभाल के इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे ई-रिक्शा का पिकअप और प्रदर्शन लंबे समय तक बना रहता है।
  • सुरक्षा का उच्च मानक: लिथियम फॉस्फेट बैटरी, जिसका इस्तेमाल इस बैटरी में किया जाता है, में आग लगने या फटने का कोई खतरा नहीं होता। यह बैटरी उच्च सुरक्षा मानकों को पूरा करती है और इसे लंबे समय तक बिना किसी चिंता के इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • बैटरी का वजन: सामान्य एक लेड एसिड बैटरी का वजन अक्सर 45 से 60 किलोग्राम होता है, 48 किलोवाट की चार बैटरी की जरूरत होती है यानी की 200 किलो ग्राम ,जिससे ई-रिक्शा के चलाने पर अतिरिक्त भार पड़ता है। यदि इस वजन को कम किया जा सके, तो ई-रिक्शा की गति और माइलेज दोनों में सुधार हो सकता है। लिथियम फॉस्फेट बैटरी एक उन्नत विकल्प है जो न केवल हल्की है बल्कि 10 से 12 साल तक चलने की क्षमता रखती है। यह बैटरी लंबी दूरी तक ई-रिक्शा चलाने में सक्षम है और इसे मेंटेनेंस की भी जरूरत नहीं होती। 4 बैटरी की बजाय केवल 1 बैटरी लगानी होगी।
  • कम मेंटेनेंस और लंबी दूरी: लिथियम फॉस्फेट बैटरी का उपयोग करने से ई-रिक्शा की मेंटेनेंस लागत में कमी आती है और चालक एक बार चार्ज करने पर अधिक दूरी तय कर सकते हैं। इस बैटरी के साथ, ई-रिक्शा का पिकअप और स्पीड भी बनी रहती है।

लिथियम फॉस्फेट बैटरी न केवल लंबे समय तक चलती है बल्कि यह आग लगने या फटने के खतरे से मुक्त भी होती है। इसके उपयोग से ई-रिक्शा की सुरक्षा में सुधार होता है। ई-रिक्शा चालकों को अकसर अपनी बैटरी से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ये समस्याएं रेंज से लेकर बैटरी के मेंटेनेंस तक फैली हुई हैं। लेकिन, नई बैटरी तकनीक ने इन समस्याओं का एक सस्ता और टिकाऊ समाधान प्रस्तुत किया है।

यह भी देखें:भारत में पहली बार 100 महीने की वारंटी वाली सोलर बैटरी

भारत में पहली बार 100 महीने की वारंटी वाली सोलर बैटरी

Nexus3 फास्फेट बैटरी की कीमत

ई-रिक्शा चालकों को अन्य बैटरी के मुताबिक बहुत ही कम दाम में Nexus3 फास्फेट की बैटरी उपलब्ध करवाई जा रही है। इस बैटरी की कीमत ₹56,000 + 18% GST हैं। यह कीमत इस बात को ध्यान में रखते हुए रखी गई है कि चालकों को एक ऐसी बैटरी मिले जिसमें लंबी अवधि तक कोई मेंटेनेंस की जरूरत न पड़े। यदि इस बैटरी को सोलर पैनल के साथ खरीदा जाता है, तो केवल 12% GST देना होगा, जबकि बैटरी को अकेले खरीदने पर GST 18% लगेगी।

यह उन चालकों के लिए एक अतिरिक्त लाभ है जिन्हें सोलर पैनल की भी आवश्यकता हो। Nexus3 फास्फेट बैटरी का उपयोग करके, ई-रिक्शा चालक न केवल बैटरी के मेंटेनेंस और बदलाव पर होने वाले खर्च को बचा सकते हैं, बल्कि उन्हें एक लंबी अवधि तक चिंता-मुक्त सेवा भी मिलती है।

जैसे-जैसे अन्य कंपनी की बैटरी डिस्चार्ज होती है, ई-रिक्शा का पिकअप और स्पीड कम होने लग जाती है। लेकिन लिथियम फॉस्फेट बैटरी में चार्ज स्थिति के आधार पर पिकअप में कोई कमी नहीं होती, जिससे ई-रिक्शा लगातार उच्च प्रदर्शन देता रहता है। अनेक उपयोगकर्ताओं ने इस बैटरी का इस्तेमाल करने के बाद बेहतर अनुभव किया है। नेपाल से एक उपयोगकर्ता ने इस बैटरी के साथ अपने ई-रिक्शा को 100 किलोमीटर तक चलाने की पावर बताई, जिससे इस बैटरी की उच्च क्षमता का पता चलता है।

यह भी देखें:इन्वर्टर के लिए सबसे बढ़िया बैटरी कौन सी है

ये हैं इन्वर्टर के लिए सबसे बढ़िया बैटरी, कई साल की वारंटी और बैकअप के साथ

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें