किफ़ायती कीमत में लगवाएं Waaree 6 Kw सोलर पैनल, देखें

वारी इनर्जीज भारत की एक प्रसिद्ध सोलर कंपनी है। इस ब्रांड के सोलर पैनल का प्रयोग कर के आप एक अच्छा सोलर सिस्टम स्थापित कर सकते हैं।

Published By News Desk

Published on

नवीकरणीय ऊर्जा को भविष्य की ऊर्जा भी कहा जाता है, क्योंकि इस ऊर्जा के स्रोतों का प्रयोग कर के बिना किसी प्रदूषण को उत्पन्न किए बिजली प्राप्त की जा सकती है। एवं जीवाश्म ईंधन की निर्भरता को खत्म किया जा सकता है। सूर्य ऊर्जा का एक बड़ा प्राकृतिक भंडार है, जिस से प्रचुर मात्रा में हमें ऊर्जा प्राप्त होती है। सूर्य से प्राप्त होने वाली सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग किया जाता है। Waaree 6 Kw सोलर पैनल (Waaree 6 Kw Solar System) से संबंधित जानकारी यहाँ जानें।

Waaree 6 Kw सोलर पैनल लगाने में होने वाला पूरा खर्चा देखें
Waaree 6 Kw सोलर पैनल लगाने में होने वाला पूरा खर्चा देखें

Waaree Energies Limited भारत की टॉप सोलर विनिर्माता कंपनियों में से एक है। इसके सोलर उपकरण अपनी विश्वसनीयता एवं उच्चतम कार्य-प्रदर्शन करने के लिए प्रसिद्ध है। वारी द्वारा सोलर उपकरणों में सोलर पैनल, सोलर इंवर्टर एवं उच्च दक्षता की लिथियम आयन बैटरी निर्मित की जाती है, जिनका प्रयोग कर एक सकुशल क्षमता का सोलर सिस्टम स्थापित किया जा सकता है।

Waaree 6 Kw सोलर पैनल सिस्टम लगाने में होने वाला कुल खर्चा

Waaree 6 Kw सोलर पैनल सिस्टम को ऐसे स्थान के लिए उपयुक्त कहा जाता हैं जहां प्रतिदिन बिजली का लोड 28 से 30 यूनिट तक रहता है। 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम में लगे सोलर पैनल प्रतिदिन 30 यूनिट तक बिजली का उत्पादन करने में सक्षम होते हैं। सोलर सिस्टम में होने वाले कुल खर्च उनमें प्रयोग होने वाले उपकरणों के प्रकार एवं सोलर सिस्टम के प्रकार पर निर्भर करता है। जिस से आप आसानी से इसमें होने वाले खर्च की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

ऑनग्रिड सोलर सिस्टम– इस प्रकार के सोलर सिस्टम को कम बिजली कटौती वाले स्थानों के लिए उपयुक्त कहा गया है, क्योंकि इस प्रकार के सोलर सिस्टम में पावर बैकअप नहीं किया जा सकता है। सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को इलेक्ट्रिक ग्रिड के साथ इसमें शेयर किया जाता है, जिसमें शेयर होने वाली बिजली की गणना के लिए नेट-मीटर का प्रयोग किया जाता है, इस प्रकार के सोलर पैनल से बिजली बिल को कम करने के साथ ही नजदीकी डिस्कॉम को बिजली बेच कर भी आर्थिक लाभ प्राप्त किया जाता है। इसमें होने वाला कुल खर्चा:-

  • 6 किलोवाट पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की कीमत- 1,55,000 रुपये
  • WAAREE 6kW Single Phase Solar On Grid Inverter की कीमत- 45,000 रुपये
  • अन्य खर्च- 30,000 रुपये
  • कुल खर्चा- 2,30,000 रुपये

ऑफग्रिड सोलर सिस्टम– इस प्रकार के सोलर सिस्टम को अधिक बिजली कटौती वाले स्थान के लिए उपयुक्त कहा जाता है, क्योंकि इस प्रकार के सोलर सिस्टम में पावर बैकअप के लिए सोलर बैटरियों का प्रयोग किया जाता है, जिनमें सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को संग्रहीत कर के रखा जाता है। इस प्रकार के सोलर सिस्टम में यदि एडवांस तकनीक के मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल के साथ लिथियम बैटरी का प्रयोग किया जाए तो एडवांस सोलर सिस्टम को स्थापित किया जा सकता है, इसमें होने वाला कुल खर्चा:-

  • 6 किलोवाट मोनो PERC सोलर पैनल की कीमत- 1,45,000 रुपये
  • Single Luminous Off Grid Solar Inverters NXT6KW की कीमत- 60,000 रुपये
  • Waaree 100 Ah लिथियम आयन बैटरी (2 बैटरी) की कीमत- 70,000 रुपये
  • अन्य खर्च- 30,000 रुपये
  • कुल खर्च- 3,05,000 रुपये

नोट: हमारे द्वारा बताएं गए कुल खर्च औसतन हैं, यह उपभोक्ता के स्थान के आधार पर अलग-अलग हो सकते हैं।

Waaree 6 किलोवाट सोलर पैनल की कीमत

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम में मुख्य रूप से पॉलीक्रिस्टलाइन, मोनो PERC या बाइफेशियल प्रकार के सोलर पैनल का प्रयोग किया जा सकता है। सोलर पैनल का चयन उपभोक्ता अपने बजट के अनुसार कर सकते हैं। सोलर पैनल की कीमत इस प्रकार हो सकती है:-
Waaree के 5 Kw क्षमता के सोलर पैनल

  • 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम में 335 वाट के 18 पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल का प्रयोग किया जाता है, इस प्रकार के सोलर सिस्टम को स्थापित करने के अधिक स्थान की आवश्यकता होती है। 335 वाट के एक सोलर पैनल की कीमत लगभग 8,500 रुपये है। इस सोलर पैनल पर Waaree द्वारा 10 साल की उत्पाद वारंटी एवं 25 साल की कार्य प्रदर्शन वारंटी प्रदान की जाती है।
  • 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम में 545 वाट के 11 मोनो PERC सोलर पैनल का प्रयोग किया जा सकता है। इस प्रकार के सोलर सिस्टम को कम स्थान में स्थापित किया जा सकता है। 545 वाट के एक सोलर पैनल की कीमत लगभग 13,000 रुपये है। इस प्रकार के सोलर पैनल पर वारी द्वारा 12 वर्ष की उत्पाद वारंटी एवं 27 साल की कार्य प्रदर्शन वारंटी प्रदान की जाती है।
  • एडवांस तकनीक के बाइफेशियल सोलर पैनल को लगा कर एडवांस सोलर सिस्टम स्थापित किया जा सकता है। 540 वाट के 11 बाइफेशियल सोलर पैनल का प्रयोग आप 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम में कर सकते हैं। इनमें एक सोलर पैनल की कीमत लगभग 13,000 रुपये है। ऐसे सोलर सिस्टम पर 12 वर्ष की उत्पाद वारंटी के साथ 30 वर्ष की कार्य प्रदर्शन वारंटी प्रदान की जाती है।

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम में सोलर इंवर्टर

किसी भी सोलर सिस्टम में बिजली के धारा रूप को परिवर्तित करने का कार्य सोलर इंवर्टर द्वारा किया जाता है, सोलर इंवर्टर DC दिष्ट धारा को AC प्रत्यावर्ती धारा में बदलने का कार्य करते हैं। प्रत्यावर्ती धारा के माध्यम से ही अधिकांश विद्युत उपकरण संचालित किए जाते हैं। सोलर इंवर्टर का प्रयोग ऑनग्रिड एवं ऑफ-ग्रिड सोलर सिस्टम के अनुसार किया जाता है। सामान्यतः सोलर सिस्टम PWM (Pulse Width Modulation) एवं MPPT (Maximum Power Point Tracking) तकनीक में बाजार में उपलब्ध रहते हैं।

  • 6 किलोवाट क्षमता के ऑनग्रिड सोलर सिस्टम में WAAREE 6kW Single Phase Solar On Grid Inverter का प्रयोग किया जाता है, इस सोलर इंवर्टर को यूजर फ़्रेंडली बनाने के लिए कई प्रकार के आधुनिक फीचर्स के साथ प्रदान किया जाता है। इस सोलर इंवर्टर पर वारी द्वारा 5 वर्ष की वारंटी प्रदान की जाती है। यह सोलर इंवर्टर अपनी उच्च कार्य क्षमता के लिए जाना जाता है।
  • 6 किलोवाट क्षमता के ऑफग्रिड सोलर सिस्टम में ल्यूमिनस के Single Luminous Off Grid Solar Inverters NXT6KW का प्रयोग किया जा सकता है। इस सोलर इंवर्टर का प्रयोग घरेलू स्तर पर किया जा सकता है। इस सोलर इंवर्टर की विशेषताएं पावर ग्रिड स्वतंत्रता, दूरदराज के स्थानों के लिए फायदेमंद, ग्रामीण विद्युतीकरण समाधान हैं। ऑफग्रिड सोलर सिस्टम को इस सोलर इंवर्टर से मजबूत बनाया जा सकता है।

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम में सोलर बैटरी

सोलर बैटरी का प्रयोग ऑफग्रिड सोलर सिस्टम में किया जाता है। सोलर पैनल द्वारा दिष्ट धारा के रूप में बिजली का उत्पादन किया जाता है। इस दिष्ट धारा को सोलर बैटरियों में संग्रहीत कर के रखा जा सकता है, सोलर बैटरी में संग्रहीत बिजली का प्रयोग उपयोगकर्ता अपनी पावर बैकअप की आवश्यकता के अनुसार कर सकता है। बाजार में अनेक ब्रांड की अलग-अलग क्षमता की सोलर बैटरियाँ उपलब्ध हैं। जिनमें लेड-एसिड बैटरी का प्रयोग सर्वाधिक होता है।

यह भी देखें:सबसे शक्तिशाली सोलर पैनल

सबसे शक्तिशाली सोलर पैनल 2024

वारी द्वारा आधुनिक तकनीक की लिथियम आयन बैटरी निर्मित की जाती है, इस प्रकार की बैटरियों की लाइफ साइकिल अधिक होती है। जो लेड एसिड बैटरियों से अधिक शक्तिशाली है और उनकी दो बैटरियों से अधिक बिजली संग्रहीत करने में सक्षम है। इस प्रकार की बैटरियों को रखरखाव की आवश्यकता नहीं होती है, सोलर सिस्टम को स्थापित करने वाले नागरिक पावर बैकअप की आवश्यकता के अनुसार उचित क्षमता की बैटरी का चयन कर सकते हैं। लिथियम आयन बैटरी पर 5 वर्ष की वारंटी प्रदान की जाती है।

सोलर सिस्टम में अन्य खर्च

किसी भी क्षमता के सोलर सिस्टम में मुख्य उपकरणों के अतिरिक्त अन्य छोटे उपकरणों का प्रयोग भी किया जाता है, जिनके माध्यम से मुख्य उपकरणों (सोलर पैनल, सोलर बैटरी, सोलर इंवर्टर) को सुरक्षा प्रदान की जाती है। इस प्रकार के उपकरणों में Panel MC4 connectors pair, Wire In, Wire Out, Solar DC cable, solar panel stand आदि का प्रयोग किया जाता है। सोलर सिस्टम में अलग-अलग प्रकार के वायर द्वारा कनेक्शन स्थापित किया जाता है। इस प्रकार 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम में अन्य खर्च लगभग 30,000 रुपये तक हो सकता है।

नोट: सोलर सिस्टम में होने वाले अन्य खर्च में सोलर सिस्टम को स्थापित करने वाले एक्सपर्ट कर्मचारियों के भुगतान शुल्क को एवं सोल उपकरणों की शिपिंग शुल्क को सम्मिलित नहीं किया गया है। यह दोनों ही शुल्क उपभोक्ता के स्थान के आधार पर अलग-अलग हो सकते हैं।

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम को ऑनग्रिड एवं ऑफग्रिड स्थापित करने में कुल कितना खर्चा होगा?

Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम को ऑनग्रिड लगाने में लगभग 2.30 लाख रुपये एवं ऑफग्रिड स्थापित करने में लगभग 3.05 लाख रुपये का कुल खर्चा हो सकता है।

क्या सरकार द्वारा 6 किलोवाट के सोलर सिस्टम पर किसी प्रकार की सब्सिडी प्रदान की जाती है?

6 किलोवाट के सोलर सिस्टम पर सोलर रुफटॉप सब्सिडी योजना के माध्यम से सब्सिडी प्राप्त की जा सकती है, इसमें ऑनग्रिड सोलर सिस्टम स्थापित करना होता है। जिसमें पहले 3 किलोवाट पर 40% एवं उसके बाद के 3 किलोवाट पर 20% की सब्सिडी आप प्राप्त कर सकते हैं।

Waaree Energies Ltd की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

वारी इनर्जीज लिमिटेड की आधिकारिक वेबसाइट www.waaree.com है।

6 किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल कितनी बिजली का उत्पादन करते हैं?

6 किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल उचित धूप प्राप्त होने पर प्रतिदिन 30 यूनिट तक बिजली का उत्पादन करने में सक्षम होते हैं। जिस से आप लगभग सभी उपकरणों को चला सकते हैं।

इस प्रकार उपर्युक्त लेख के माध्यम से आप Waaree 6 Kw सोलर सिस्टम में प्रयोग होने वाले उपकरणों एवं कुल खर्चे की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सौर ऊर्जा के अधिक से अधिक प्रयोग के लिए सरकार द्वारा भी प्रयास किए जा रहे हैं। सोलर सिस्टम को स्थापित करने के अनेक फायदे उपयोगकर्ता को प्राप्त होते हैं। सोलर सिस्टम की सबसे बड़ी विशेषता पर्यावरण के अनुकूल बिजली का उत्पादन करना है। जिस से कार्बन फुटप्रिन्ट को कम किया जा सकता है, एवं हरित भविष्य की ओर बढ़ा जा सकता है।

यह भी देखें:घर में Laptop / Computer चलाने के लिए लगाएँ Solar Panel, कितने वाट का सही रहेगा जानें अभी

घर में Laptop / Computer चलाने के लिए लगाएँ Solar Panel, कितने वाट का सही रहेगा जानें अभी

3 thoughts on “किफ़ायती कीमत में लगवाएं Waaree 6 Kw सोलर पैनल, देखें”

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें