PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana: सोलर पैनल में सब्सिडी मिलने के नियम तय, इन कनेक्शन पर सबसे कम

यदि आप सोलर सब्सिडी ला लाभ प्राप्त कर सोलर सिस्टम लगाना चाहते हैं तो आवश्यक है कि आपको सोलर सब्सिडी के नियम की जानकारी पूरी हो।

Published By News Desk

Published on

नवीकरणीय ऊर्जा के प्रयोग से पर्यावरण को सुरक्षित किया जा सकता है, सौर ऊर्जा के अधिक से अधिक प्रयोग से बढ़ते प्रदूषण को कम किया जा सकता है। साथ ही सौर ऊर्जा के द्वारा भारी बिजली बिल को कम किया जा सकता है। सोलर पैनल को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहा हैं, जिसके लिए सरकार द्वारा सब्सिडी योजनाएं शुरू की जा रही हैं। PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana में मिलने वाली सब्सिडी के नियम की जानकारी यहाँ देखें।

PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana: सोलर पैनल में सब्सिडी मिलने के नियम तय, इन कनेक्शन पर सबसे कम
PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana

PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana

केंद्र सरकार की सूर्य घर फ्री बिजली योजना के अंतर्गत 75% तक की सब्सिडी का ऑनलाइन पंजीकरण कानपुर में शुरू हो गया है। इस योजना में 2 किलोवाट क्षमता से अधिक लोड वाले सोलर पैनल लगाने पर सरकारी छूट कम होती है। यदि आप अधिक लोड वाले सिस्टम में कम क्षमता के सोलर पैनल का प्रयोग करना चाहते हैं तो आपको बता दें, आप स्वीकृत लोड से अधिक लोड वाले सोलर पैनल को स्थापित नहीं कर सकते हैं।

PM Surya Ghar Muft Bijli Yojana में विक्रेता की जानकारी देखें

सौर ऊर्जा के प्रयोग के लिए नागरिकों को प्रेरित करने वाली इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आप Uttar Pradesh Unified Solar rooftop Portal की आधिकारिक वेबसाइट में जा कर पंजीकरण कर सकते हैं। पोर्टल पर पंजीकरण करने के बाद आप आसानी से सोलर पैनल स्थापित करने वाले विक्रेताओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। विक्रेता की जानकारी जानने के बाद आप आवेदन कर सकते हैं। आपके आवेदन की स्वीकृति मिलने के बाद आपका सोलर पैनल विक्रेता द्वारा लगा दिया जाएग, जिसके लिए आपको उन्हें पेमेंट करना होता है। उसके बाद आपके अकाउंट में सब्सिडी के माध्यम से वह राशि भेज दी जाती है।

अधिक क्षमता के सोलर सिस्टम पर मिलेगी कम सब्सिडी

2 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम को लगाने पर उपभोक्ता को 75% सब्सिडी प्रदान की जाती है। 2 किलोवाट से अधिक क्षमता के सोलर सिस्टम पर निम्न प्रकार से सब्सिडी प्रदान की जाती है:-

यह भी देखें:टाटा पावर ने शुरू की पानी में तैरती हुई भारत की सबसे बड़ी सोलर परियोजना, इससे पैदा होगी 101.6 मेगावाट की बिजली

टाटा पावर ने शुरू की पानी में तैरती हुई भारत की सबसे बड़ी सोलर परियोजना, इससे पैदा होगी 101.6 मेगावाट की बिजली

  • 3 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 60% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 4 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 45% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 5 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 36% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 6 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 30% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 7 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 26% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 8 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 23% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 9 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 20% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 10 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम पर 18% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

सैमुअल पॉल (MD कस्को) द्वारा यह जानकारी साझा की गई है। जिन उपभोक्ताओं का लोड अधिक है, वे 2 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम को लगा कर 75% सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। 2 Kw के सोलर सिस्टम को लगाने में लगभग 1,20,000 रुपये तक का खर्चा आता है, जिसे सब्सिडी योजना के द्वारा मात्र 30 हजार रुपये में स्थापित किया जा सकता है।

निष्कर्ष

केंद्र सरकार की सोलर सब्सिडी योजना का लाभ प्राप्त कर आप बहुत कम कीमत में आसानी से सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं, अधिकांश नागरिक सोलर सिस्टम को प्राथमिक निवेश के अधिक होने के कारण नहीं लगाते हैं, वे सभी सरकार की इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, सोलर सिस्टम के द्वारा आप सिर्फ बिजली के बिल को ही कम नहीं करते हैं, उसके साथ ही आप हरित भविष्य की कल्पना को साकार कर सकते हैं, और लंबे समय तक सोलर पैनल से बनने वाली बिजली का प्रयोग कर सकते हैं।

यह भी देखें:6.5kW Hybrid Solar Panel System: सब्सिडी वाली कीमत में हाइब्रिड सोलर सिस्टम ऐसे लगाएं

6.5kW Hybrid Solar Panel System: सब्सिडी वाली कीमत में हाइब्रिड सोलर सिस्टम ऐसे लगाएं

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें