25 साल तक मुफ्त बिजली पाएं साथ में पैसे कमाएं मात्र 70 हजार में लगाएं सोलर पैनल

सोलर पैनल को एक बार सही से स्थापित करने के बाद उसका प्रयोग आने वाले 25 साल तक कर सकते हैं।

Published By News Desk

Published on

सौर ऊर्जा से बिजली प्राप्त करने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग किया जाता है। सौर ऊर्जा के अधिक से अधिक प्रयोग पर सरकार भी विशेष ध्यान दे रही है। सोलर सिस्टम को स्थापित कर के बिजली के बिल में बचत की जा सकती है। इसलिए केंद्र सरकार के नवीन एवं ऊर्जा मंत्रालय द्वारा रुफटॉप सोलर प्लांट पर 30 % की सब्सिडी उपभोक्ता को दी जाती है, जिस से उपभोक्ता को इसे स्थापित करने में भी आर्थिक राहत प्राप्त होती है।

70 हजार के खर्चे में लगाएं सोलर पैनल, 25 साल तक मुफ्त बिजली पाएं और पैसे कमाएं
25 साल तक मुफ्त बिजली पाएं और पैसे कमाएं

आइए समझते हैं कैसे?

यदि एक सोलर सिस्टम को बिना सब्सिडी प्राप्त किए लगाया जाए तो उसे लगाने में होने वाला खर्च लगभग 1 लाख रुपये हो सकता है। यह खर्च स्थान के आधार पर अलग-अलग हो सकता है। सरकार द्वारा प्राप्त होने वाली 30 % सब्सिडी के द्वारा अपने सोलर सिस्टम को 60 हजार से 70 हजार रुपये के कुल खर्च में लगा सकते हैं। राज्य सरकार द्वारा भी सोलर सिस्टम को स्थापित करने के लिए सब्सिडी योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिनसे आप अधिक सब्सिडी भी प्राप्त कर सकते हैं।

70 हजार के खर्चे में लगाएं सोलर पैनल

सोलर सिस्टम को लगाने से पहले आपको पता हपन चाहिए कि आपको कहाँ से सोलर पैनल खरीदने हैं जिस से आप सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं, तो आपको बता दें आप नीचे दी गई जानकारी के आधार पर सोलर पैनल खरीद सकते हैं:-

  • आप अपने राज्य के नजदीकी नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विकास विभाग से संपर्क करें।
  • आप इस विभाग से पंजीकृत सोलर पैनल के प्राइवेट डीलर्स की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • आप संबंधित विभाग से लोड के लिए भी संपर्क कर सकते हैं।
  • सोलर पैनल की सब्सिडी को प्राप्त करने के लिए आवेदन फॉर्म को विभाग के कार्यालय में जमा करें।

सोलर पैनलों की उम्र 25 साल

अधिकांश सोलर ब्रांड द्वारा आज के समय में अपने सोलर पैनल की लाइफ साइकिल भी बताई जाती है। सामान्यतः एक अच्छे सोलर पैनल की उम्र २५ साल तक होती है। इसका यह अर्थ होता है, कि आप 25 साल तक सोलर पैनल का प्रयोग कर सौर ऊर्जा से बिजली प्राप्त कर सकते हैं। जिस से आप फ्री में बिजली प्राप्त करने के साथ ही पर्यावरण को सुरक्षित रख सकते हैं।

पांच सौ वाट तक के सोलर पैनल मिलेंगे

आप अपने सोलर सिस्टम में 500 वाट क्षमता के सोलर पैनल को स्थापित कर सकते हैं। सोलर पैनल पर्यावरण के अनुकूल ही बिजली का उत्पादन करते हैं, इनके इसी महत्व को समझते हुए सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है। ऐसे में आप 500 वाट के सोलर पैनल की सहायता से अपना सोलर सिस्टम स्थापित कर सकते हैं, जिसकी कीमत कम होती है।

सामान्यतः १ किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल से 5 यूनिट तक बिजली का निर्माण हर दिन किया जा सकता है। जिस से घर की बिजली की सामान्य आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकता है। यदि आप AC (एयरकंडीशनर) जैसे उपकरण प्रयोग करते हैं तो आप 2 या 3 किलोवाट के सोलर सिस्टम को लगा सकते हैं।

यह भी देखें:आधे से भी कम दाम में लगेगा अब 3kw Solar System, जाने कीमत और सब्सिडी

आधे से भी कम दाम में लगेगा अब 3kw Solar System, जाने कीमत और सब्सिडी

10 साल में बदलनी होगी बैटरी

सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को सोलर बैटरी में स्टोर कर के रखा जा सकता है। पूरे सोलर सिस्टम में सोलर बैटरी में ही मुख्य रखरखाव की आवश्यकता होती है, जिसकी लाइफ साइकिल अधिकतम 10 वर्ष तक होती है। 10 वर्ष बाद आपको अपने सोलर सिस्टम में नई बैटरी जोड़नी होती है, जिसकी कीमत लगभग 15,000 रुपये तक हो सकती है। यह वजन में हल्की हो तो आप इसे अपने साथ ले जा सकते हैं।

सोलर पैनल के लिए लोन करें प्राप्त

यदि आपके पास सोलर सिस्टम लगाने के लिए एकमुश्त राशि नहीं है, तो आप किसी भी बैंक की सहायता से सोलर सिस्टम लगाने के लिए लोन प्राप्त कर सकते हैं। केंद्र सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा सभी बैंकों के लिए गाइडलाइन तैयार की गई है।

बेच भी सकते हैं बिजली

यदि आपके सोलर सिस्टम से आवश्यकता से अधिक बिजली का उत्पादन हो रहा है, तो आप उस अतिरिक्त बिजली को इलेक्ट्रिक ग्रिड को बेच भी सकते हैं। भारत में पंजाब, राजस्थान, छतीसगढ़ एवं मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में यह किया जा सकता है। इसमें आपको ऑनग्रिड सोलर सिस्टम को स्थापित करना होता है, जिस से आप ग्रिड के साथ बिजली को साझा कर बिजली बिल को शून्य एवं आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी देखें: जानें कौन सी कंपनी लगाती है फ्री में सोलर पैनल

जानें कैसे कमाएं पैसे

70 हजार के खर्चे में लगाएं सोलर पैनल को स्थापित कर आप कैसे पैसे कमा सकते हैं, इसके लिए आप निम्न बिंदुओं पर ध्यान दें:-

  • आप अपने नजदीकी डिस्कॉम (विद्युत वितरक विक्रेता) को बिजली बेच सकते हैं। यदि आप किसी लोकल डिस्कॉम को बिजली बेचते हैं तो उसके लिए आपके पास लाइसेंस होना चाहिए। इन डिस्कॉम के साथ Power Purchase Agreement करना होगा।
  • आपके द्वारा शेयर होने वाली बिजली की लगना के लिए नेट-मीटर का प्रयोग किया जाएग।
  • आप अपने सोलर सिस्टम से प्रति-यूनिट लगभग 7.50 रुपये प्राप्त कर सकते है।

यह भी देखें:सौर ऊर्जा के पक्ष एवं विपक्ष: क्या हैं फायदे और नुकसान?

सौर ऊर्जा के पक्ष एवं विपक्ष: क्या हैं फायदे और नुकसान?

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें