सरकार लगवाएगी हर घर पर सोलर पैनल, दिल्ली वालों को मिली बड़ी सौगात

Published By News Desk

Published on

आज के समय में जहां बिजली की खपत बढ़ती जा रही है, ऐसे में बिजली का बिल भी बढ़ रहा है। जिसको कम करने के लिए नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों का प्रयोग नागरिक कर सकते हैं। नवीकरणीय ऊर्जा के उपकरणों के माध्यम से बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। एवं इनसे प्रदूषण भी उत्पन्न नहीं होता है, ऐसे में सरकार द्वारा भी नागरिकों को सोलर पैनल के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

दिल्ली में रहने वाले नागरिकों के परिवारों के लिए केजरीवाल सरकार द्वारा 200 यूनिट फ्री बिजली प्रदान की जाती है। 200 यूनिट से ऊपर की यूनिट पर भारी बिल नागरिकों को प्राप्त होता है। ऐसे में दिल्ली सरकार द्वारा नागरिकों को राहत प्रदान करने के लिए नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन एवं प्रयोग करने के लिए बढ़ावा दिया जा रहा है।

सरकार लगवाएगी हर घर पर सोलर पैनल

दिल्ली सरकार द्वारा नागरिकों को बिजली के बिल कम करने के लिए सोलर सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जिसमें सरकार द्वारा नागरिकों के घरों की छतों पर सोलर पैनल लगाने के सब्सिडी दी जाएगी। जिसमें सरकार द्वारा योजना की क्रियान्वयन प्रक्रिया को बनाया गया है।

सरकार लगवाएगी हर घर पर सोलर पैनल, दिल्ली वालों को मिली बड़ी सौगात
सरकार लगवाएगी हर घर पर सोलर पैनल, दिल्ली वालों को मिली बड़ी सौगात

प्रति किलोवाट 2 हजार की सब्सिडी

दिल्ली सरकार के ऊर्जा विभाग द्वारा इस योजना को संचालित किया जाएगा, जिसके लिए वे कैबिनेट को स्वीकृति हेतु प्रस्ताव भेजेगी। योजना में नागरिक अपने घर की छत पर 6 फिट से 10 फिट की ऊंचाई पर सोलर पैनल लगा सकते हैं। सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार द्वारा अधिकतम 10,000 रुपये की सब्सिडी नागरिक को दी आएगी। जो कि प्रति किलोवाट 2000 रुपये होगी। अतः इसमें अधिकतम 5 किलोवाट तक के सोलर पैनल ही लगाए जा सकते हैं।

यह भी देखें:मात्र ₹1,230 में पूरा सोलर पैकेज, आज ही लगवाएं सोलर पैनल

मात्र ₹1,230 में पूरा सोलर पैकेज, आज ही लगवाएं सोलर पैनल

यदि नागरिक अपनी छत पर 6 फिट से कम ऊंचाई में सोलर पैनल को स्थापित करते हैं तो ऐसे में सोलर सब्सिडी का लाभ नहीं दिया जाता है। इसके लिए नागरिक केंद्र सरकार की सोलर रुफटॉप सब्सिडी योजना का आवेदन कर सकते हैं जिसमें 40% तक सब्सिडी नागरिकों को दी जाती है। इस योजना के द्वारा आप आसानी से 35 हजार रुपये तक के खर्चे में 1 किलोवाट के सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं।

वर्ष 2025 तक 6 हजार मेगावाट स्थापित सौर क्षमता का लक्ष्य

दिल्ली सरकार द्वारा राज्य की सौर ऊर्जा की क्षमता को वर्ष 2025 तक 6 हजार मेगावाट स्थापित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके लिए सरकार निरन्तरता से प्रयास कर रही है, एवं अधिक से अधिक परिवारों को सोलर पैनल स्थापित करने के लिए प्रेरित कर रही है। दिल्ली राज्य की विद्युत ऊर्जा की सालाना मांग को 9% से बढ़ाकर 25% करना योजना का उद्देश्य है।

निष्कर्ष

सोलर पैनल का प्रयोग कर आने वाले 20 से 25 सालों तक फ्री बिजली का लाभ लिया जा सकता है, सोलर पैनल के प्रयोग से जहां एक ओर उपभोक्ता को इलेक्ट्रिक ग्रिड बिजली के बिल में भारी छूट प्राप्त होती है, वहीं दूसरी ओर यह पर्यावरण को सुरक्षित रखने में आम नागरिक की हिस्सेदारी को जोड़ता है। सोलर पैनल प्रदूषण मुक्त ढंग से बिजली को निर्मित करते हैं। इनके प्रयोग से हरित भविष्य की कल्पना को साकार किया जा सकता है।

यह भी देखें:सौर ऊर्जा: पक्ष एवं विपक्ष, जानें फायदे और नुकसान

सौर ऊर्जा: पक्ष एवं विपक्ष, जानें फायदे और नुकसान

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें