छत पर सोलर पैनल लगाएं, होगी 18,000 रुपये की बचत, सरकार देगी 60% सब्सिडी

Published By News Desk

Published on

जीवाश्म ईंधन का प्रयोग बढ़ने से पर्यावरण अधिक तेजी से प्रदूषित हुआ है, जिसका परिणाम जलवायु परिवर्तन एवं ग्लोबल वार्मिंग है। इलेक्ट्रिक ग्रिड के प्रयोग से बिजली प्राप्त करने वाले उपभोक्ताओं को भारी बिजली का बिल प्राप्त हो रहा है। सोलर पैनल का प्रयोग कर के इन सभी समस्याओं से छुटकारा प्राप्त किया जा सकता है, सोलर पैनल पर्यावरण को बिना नुकसान पहुंचाए बिजली का उत्पादन करते हैं। साथ ही उपयोगकर्ता लंबे समय तक इनका प्रयोग कर सकता है। इस लेख से आप छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए मिलने वाली सब्सिडी एवं बचत की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एवं सब्सिडी प्राप्त कर कम कीमत में सोलर सिस्टम लगा सकते हैं।

छत पर सोलर पैनल लगाएं, होगी 18,000 रुपये की बचत, सरकार देगी 60% सब्सिडी
छत पर सोलर पैनल लगाएं

सोलर पैनल पर किए जाने वाले निवेश को बुद्धिमानी का निवेश कहा जाता है, क्योंकि सोलर पैनल को स्थापित करने में सिर्फ एक बार ही निवेश करना होता है, जिसमें निवेश की गयी राशि को उपभोक्ता कुछ ही सालों में सोलर पैनल से प्राप्त बिजली बचत से कर लेता है। उसके बाद आने वाले 20 सालों तक फ्री बिजली का लाभ उपभोक्ता प्राप्त करता है। सोलर सिस्टम के लिए नागरिकों को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। जिस से नागरिक सब्सिडी प्राप्त कर सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री द्वारा सोलर पैनल से जुड़ी योजनाओं को लांच किया है।

छत पर सोलर पैनल लगाएं, होगी 18,000 रुपये की बचत

प्रधानमंत्री द्वारा हाल में ही सूर्योदय योजना एवं सूर्य घर योजना की घोषणा की गई है। यह योजनाएं सोलर सिस्टम को स्थापित करने के लिए नागरिकों को सहायता प्रदान करती है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट सत्र में बताया गया कि योजना के माध्यम से देश के 1 करोड़ परिवारों की छतों पर सोलर पैनल स्थापित किए जाएंगे। जिनके लिए उन्हें सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। एवं वे कम कीमत में सोलर सिस्टम को स्थापित कर उसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

साथ ही ऐसे परिवारों को 300 यूनिट फ्री बिजली प्रदान की जाएगी। ऐसा होने पर नागरिक प्रतिवर्ष बिजली बिल में 18,000 रुपये की बचत कर सकते है। एवं सोलर पैनल से बनने वाली बिजली का लाभ लंबे समय तक प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना द्वारा देश की नवीकरणीय ऊर्जा की क्षमता में वृद्धि की जाएगी। एवं अधिक से अधिक नागरिकों को सोलर पैनल से बिजली प्रदान कराई जाएगी। योजना के लिए सरकार द्वारा आधिकारिक वेबसाइट लांच कर दी है। जिसमें उपभोक्ता पंजीकरण कर सकते हैं।

सरकार द्वारा दी जाएगी 60% सब्सिडी

सरकार द्वारा जारी की जाने वाली इन योजनाओं में करोड़ घरों में सोलर पैनल लगाने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना में सोलर पैनल को लगाने एवं रखरखाव का कार्य सरकार द्वारा ही किया जाएगा। सरकार द्वारा जारी जानकारी के अनुसार 3 किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल पर सरकार 40% सब्सिडी प्रदान करती थी। जिसे अब नई योजना के द्वारा 60% कर दिया गया है।

यदि उपभोक्ता 40% शेष राशि का भुगतान एक साथ करने में असमर्थ है तो वह किसी भी पब्लिक सेक्टर से लोन प्राप्त कर सकता है। ऐसी फाइनेंस कंपनी के द्वारा ही सोलर सिस्टम स्थापित किए जाएंगे। ऐसे में उपभोक्ता अन्य आर्थिक सहायता से भी सोलर पैनल को स्थापित कर सकते हैं। जिसका भुगतान वे किस्तों में कर सकते हैं। आप पंजीकृत फाइनेंस कंपनी की जानकारी को अक्षय ऊर्जा विभाग से प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी देखें:Waaree Company के 3kw Solar System को लगाने से पहले जाने कीमत

नाम-मात्र कीमत में Waaree 3kw Solar System लगवाएं घर में

सोलर पैनल से कमाएं पैसे

केंद्र सरकार द्वारा लगाए जाने वाले सोलर पैनल को ऑनग्रिड सोलर सिस्टम में स्थापित किया जाएगा, ऐसे सोलर सिस्टम में बिजली को संग्रहीत करने के लिए किसी प्रकार की बैटरी का प्रयोग नहीं किया जाता है। ऐसे में पैनल से बनने वाली बिजली को इलेक्ट्रिक ग्रिड के साथ साझा किया जाता है। जिसमें दोनों ओर से साझा होने वाली बिजली की गणना करने के लिए नेट-मीटर को सिस्टम में लगाया जाता है। ऐसे में आपके छत पर लगे सोलर पैनल से बनने वाली जो अतिरिक्त बिजली होती है, उस से आप आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

अपने सोलर सिस्टम से बनने वाली बिजली के द्वारा ही आप लोन की राशि का भुगतान कर सकते हैं। और ऐसे में 10 साल में आप लोन की पूरी राशि का भुगतान कर सकते हैं। उसके बाद आप फ्री बिजली का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सब्सिडी में पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल लगाए जाते हैं। इन सोलर पैनलों पर सामान्यतः 25 वर्ष की कार्य प्रदर्शन वारंटी दी जाती है। जिस से आप यह समझ सकते हैं, कि कम से कम 25 वर्ष तक तो सोलर पैनल से बिजली का लाभ आप प्राप्त कर सकते हैं।

बजट में की गई घोषणा के मुख्य बिन्दु

फरवरी में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा अंतरिम बजट में सोलर पैनल से जुड़ी हुई कुछ जानकारी प्रदान की गई। जिनमें मुख्य बिन्दु इस प्रकार थे:-

  • देश के 1 करोड़ परिवारों की छतों पर सोलर पैनल स्थापित किए जाएंगे।
  • ऐसे परिवारों को 300 यूनिट फ्री बिजली प्रदान की जाएगी।
  • सोलर पैनल की आपूर्ति एवं इंस्टालेशन के लिए बड़ी संख्या में विक्रेताओं का चयन किया जाएगा।
  • सोलर सिस्टम को स्थापित करने से अनेक प्रकार से रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे।

निष्कर्ष

सोलर पैनल का प्रयोग कर इलेक्ट्रिक ग्रिड की निर्भरता को कम किया जा सकता है, ऐसे में नागरिक बिजली के बिल को कम कर सकता है और साथ ही अतिरिक्त बिजली का उत्पादन कर के आर्थिक लाभ भी प्राप्त कर सकता है। सोलर पैनल के प्रयोग से जीवाश्म ईंधन की निर्भरता को पूरी तरह से खत्म किया जा सकता है। सोलर पैनल भविष्य में हर क्षेत्र में स्थापित किए जाएंगे। ऐसा होने पर पर्यावरण में उपस्थित कार्बन फुटप्रिन्ट को कम किया जा सकता है। और हरित भविष्य की कल्पना की जा सकती है।

यह भी देखें:अब पतंजलि 5 Kw सोलर पैनल पर मिलेगी 1.39 लाख की सब्सिडी जानें कैसे

पतंजलि 5 Kw सोलर पैनल पर मिलेगी 1.39 लाख की सब्सिडी, जानें कैसे

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें