कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है? जानें सबकुछ!

लंबे समय तक किस प्रकार के सोलर पैनल का प्रयोग कर सकते हैं? ऐसे सोलर पैनल की जानकारी इस लेख में दी गई है।

Published By News Desk

Published on

सौर ऊर्जा को भविष्य की ऊर्जा कहा जाता है, क्योंकि सौर ऊर्जा का प्रयोग करने से प्रदूषण को कम किया जा सकता है, आज के समय में जहां हर क्षेत्र में जीवाश्म ईंधन का प्रयोग कर के भारी मात्रा में प्रदूषण उत्पन्न किया जा रहा है, जिस कारण जलवायु परिवर्तन एवं ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्याएं देखी जा रही हैं, इनसे निपटने के लिए आवश्यक है कि जीवाश्म ईंधन की निर्भरता को कम किया जाए और सौर ऊर्जा के प्रयोग को बढ़ावा दिया जाए। कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है? यहाँ जानें।

कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है? जानें सबकुछ!
कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है? जानें सबकुछ!

सोलर पैनल क्या है?

सोलर पैनल का प्रयोग कर के सूर्य से प्राप्त होने वाली सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जा सकता है। सोलर पैनल में अंदर सोलर सेल लगे होते हैं, जिन्हें फोटोवोल्टिक सेल (PV Cell) भी कहा जाता है, इनके द्वारा ही यह ऊर्जा परिवर्तन का कार्य किया जाता है। सोलर पैनल पर्यावरण के अनुकूल कार्य करते हैं। इसलिए इनका प्रयोग करने के लिए सरकार द्वारा भी नागरिकों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। एवं सब्सिडी प्रदान की जाती है। सोलर पैनल मुख्यतः 3 प्रकार के बाजार में उपलब्ध रहते हैं:-

  • पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल– इस प्रकार के सोलर पैनल सर्वाधिक प्रयोग किए जाते हैं। इनकी दक्षता कम होती है, जिस कारण इनकी कीमत भी कम होती है। इनके द्वारा सिर्फ दिन के समय ही बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। इन सोलर पैनलों पर ही सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल– इनकी दक्षता पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल से अधिक होती है, ये एक प्रकार से आधुनिक सोलर पैनल होते हैं। इनके द्वारा खराब मौसम में भी बिजली का उत्पादन करने की सामर्थ्य रखी जाती है। इनकी कीमत पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल से अधिक होती है।
  • बाइफेशियल सोलर पैनल– ये सबसे आधुनिक सोलर पैनल कहे जाते हैं, इनके द्वारा दोनों ओर से बिजली का उत्पादन किया जा सकता है, ये सूर्य से प्राप्त होने वाले सीधे प्रकाश से एवं परावर्तित होने वाले प्रकाश (Albedo Light) से बिजली का उत्पादन कर सकते हैं। इनकी कीमत मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल के लगभग बराबर ही होती है।

कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है?

सबसे बेस्ट सोलर पैनल कौन सा है जिसका प्रयोग कर के सालों-साल बिजली प्राप्त की जा सकती है। इसे कुछ कारकों के आधार पर बताया जा सकता है, क्योंकि सभी प्रकार के सोलर पैनल एक समान ही लग सकते हैं, लेकिन हम आपको सबसे बेस्ट सोलर पैनल की जानकारी प्रदान करेंगे। बेस्ट सोलर पैनल में निम्न कारक महत्वपूर्ण होते हैं:-

  • उच्च दक्षता– उच्च दक्षता के सोलर पैनल के द्वारा अधिक बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। सोलर पैनलों में लगे सेल (PV Cell) की दक्षता ही सोलर पैनल की दक्षता होती है, उच्च दक्षता के सोलर पैनल का प्रयोग कर के लंबे समय तक बिजली का लाभ प्राप्त किया जाता है।
  • निर्माता ब्रांड– सोलर पैनल का निर्माण करने वाले ब्रांड की संख्या आज के समय में बहुत ज्यादा हो गई है, सोलर सिस्टम को स्थापित करने के लिए ऐसे ब्रांड के उपकरणों का प्रयोग करना चाहिए, जो विश्वसनीय हो। एवं जिसके उपकरण सच में उच्च कार्य प्रदर्शन के लिए जाने जाते हैं। ब्रांड की जानकारी आप अनलाइन माध्यम से भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • सोलर पैनल की संख्या– किसी भी सोलर सिस्टम में उसकी क्षमता के अनुसार ही सोलर पैनल स्थापित किए जाते हैं। अच्छे सोलर सिस्टम के लिए सही क्षमता के सही संख्या में सोलर पैनल स्थापित किए जाते हैं।
  • सोलर सिस्टम की स्थापना– यदि आप किसी भी प्रकार के सोलर पैनल का प्रयोग करें एवं उसे सही से स्थापित न करें तो वह कुछ वर्षों के बाद ही काम करना बंद कर सकता है। इसलिए सोलर सिस्टम को किसी एक्सपर्ट तकनीशियन की सहायता से ही स्थापित करना चाहिए।
  • सोलर पैनल की वारंटी– सामान्यतः पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल पर 25 सालों की कार्य प्रदर्शन वारंटी नागरिक को प्रदान की जाती है, एवं मोनोक्रिस्टलाइन एवं बाइफेशियल सोलर पैनल पर 30 वर्षों की वारंटी उपभोक्ता प्राप्त कर सकते हैं। अब यह उनके निर्माता ब्रांड पर निर्भर करता है। इसलिए विश्वसनीय ब्रांड के सोलर उपकरणों का ही प्रयोग करना चाहिए।
  • सोलर पैनल का रखरखाव– यदि आप सालों-साल सोलर पैनल का लाभ चाहते हैं तो आवश्यक है कि आप स्थापित किए गए सोलर पैनल का रखरखाव उचित ढंग से करें। सोलर पैनल स्थापित करने वाले ब्रांड से आप AMC करवा सकते हैं। ऐसे में सोलर पैनल अपनी पूरी दक्षता के अनुसार कार्य करते हैं।

सोलर पैनल से होने वाले लाभ

सोलर पैनल का प्रयोग करने से निम्नलिखित लाभ उपयोगकर्ता को प्राप्त होते हैं:-

यह भी देखें:Solar Panel Yojana: सरकार बनते ही फ्री सोलर पैनल योजना के लिए फॉर्म भरने शुरू, यहां से करें आवेदन

Solar Panel Yojana: नई सरकार बनते ही फ्री सोलर पैनल योजना शुरू, करें आवेदन

  • आज के समय में बिजली का बिल हर महीने अधिक प्राप्त होता है, यदि सोलर पैनल का प्रयोग किया जाए तो इलेक्ट्रिक ग्रिड की निर्भरता को कम किया जा सकता है, जिससे बिजली के बिल में नागरिक को भारी छूट प्राप्त होती है।
  • यदि आप सरकार के द्वारा प्रदान की जाने वाली सोलर सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप अपने प्रतिष्ठान में ऑनग्रिड सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं। एवं सब्सिडी का आवेदन कर सकते हैं।
  • सोलर सिस्टम का प्रयोग करने से आप पर्यावरण को स्वच्छ रखने में भी अपनी सहभागिता निभा सकते हैं, सोलर पैनल बिना किसी प्रदूषण को उत्पन्न किए ही बिजली का उत्पादन कर सकते हैं।
  • सोलर पैनल का प्रयोग कर ऑनग्रिड सोलर सिस्टम लगा कर आप अपने विद्युत वितरक को बिजली बेच भी सकते हैं, जिस से आपको आर्थिक लाभ प्राप्त हो सकता है।

निष्कर्ष

इस लेख के माध्यम से आप यह जान सकते हैं कि कौन सा Solar Panel सालों-साल चलता है? मोनोक्रिस्टलाइन एवं बाइफेशियल सोलर पैनल आधुनिक होते हैं, इनकी कीमत ज्यादा होती है, लेकिन इस प्रकार के सोलर पैनल का प्रयोग कर के आप लंबे समय तक बिजली का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

यदि आप ऑफग्रिड सोलर सिस्टम को लगाएं तो आप सोलर पैनल से बनने वाली बिजली का पावर बैकअप रखने के लिए बैटरी का प्रयोग भी कर सकते हैं। सोलर पैनल के प्रयोग से जीवाश्म ईंधन की निर्भरता को पूरी तरह से समाप्त किया जा सकता है, एवं हरित भविष्य की ओर बढ़ा जा सकता है। क्योंकि यह पर्यावरण में कार्बन फुटप्रिन्ट को कम करने में अहम भूमिका निभाते हैं।

यह भी देखें:EMI पर सोलर पैनल खरीदने के लिए देखें पूरी जानकारी

EMI पर सोलर पैनल खरीदने के लिए देखें पूरी जानकारी

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें