IREDA Share Price: यहाँ करें निवेश,महारत्न बनने वाली है ये कंपनी, शेयर खरीदने को मची होड़

इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट लिमिटेड (IREDA) ने वित्तीय वर्ष 2030 तक "महारत्न" दर्जा प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यह सरकारी दिशानिर्देशों और मंजूरी के अधीन होगा।

Published By SOLAR DUKAN

Published on

IREDA Share Price
IREDA Share Price: यहाँ करें निवेश,महारत्न बनने वाली है ये कंपनी, शेयर खरीदने को मची होड़

इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी लिमिटेड (IREDA) ने वित्तीय वर्ष 2030 तक महारत्न पीएसयू बनने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यह सरकारी दिशानिर्देशों और अनुमोदनों के तहत होगा। पिछले महीने, IREDA को सरकार द्वारा नवरत्न का दर्जा दिया गया था, जिसके बाद इसके शेयरों में 5% की वृद्धि हुई थी।

शेयर बाजार में IREDA का प्रदर्शन

शुक्रवार को IREDA के शेयर 1.7% गिरकर बंद हुए थे। लेकिन सोमवार सुबह 10 बजे यह 3.75% की वृद्धि के साथ 193 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। पिछले 5 दिनों में यह स्टॉक करीब 7% चढ़ा है और पिछले छह महीनों में अपने निवेशकों को तीन गुना से अधिक लाभ दिला चुका है। पिछले एक साल में यह स्टॉक 220% उछला है। आज इसके शेयर +8.60 (4.63%) बढ़ोतरी के साथ 194.15 INR पर हैं।

महारत्न का दर्जा पाने की योजना

महारत्न का दर्जा पाने के लिए IREDA ने कई महत्वपूर्ण लक्ष्य निर्धारित किए हैं, जिन्हें वह वित्तीय वर्ष 2030 तक हासिल करना चाहती है:

  1. वार्षिक डिस्बर्समेंट:
    • वित्त वर्ष 2030 तक IREDA का लक्ष्य वार्षिक डिस्बर्समेंट को 5 गुना से अधिक बढ़ाकर ₹1.36 लाख करोड़ करना है।
    • वित्त वर्ष 2024 के अंत तक IREDA का डिस्बर्समेंट ₹25,089 करोड़ था, जो वित्त वर्ष 2023 की तुलना में 15% अधिक है।
  2. लोन बुक:
    • वित्त वर्ष 2030 के अंत तक IREDA का लक्ष्य ₹3.5 लाख करोड़ का लोन बुक बनाने का है, जो वित्त वर्ष 2024 की ₹59,650 करोड़ की लोन बुक से 6 गुना अधिक है।

महारत्न पीएसयू का महत्व

महारत्न के रूप में क्लासिफायड होने के लिए कंपनी को पहले नवरत्न का दर्जा प्राप्त होना चाहिए। इसके अलावा, कंपनी को न्यूनतम शेयरधारिता मानदंडों के अनुरूप होना चाहिए और पिछले तीन वर्षों में उसका औसत वार्षिक कारोबार ₹25,000 करोड़ से अधिक होना चाहिए।

यह भी देखें:Hydrogen Solar Panels in India: भारत में हाइड्रोजन सोलर पैनल की कीमत क्या है?

Hydrogen Solar Panel: भारत में हाइड्रोजन सोलर पैनल की कीमत क्या है?

महारत्न पीएसयू के रूप में IREDA को अन्य कैटेगरी के पीएसयू की तुलना में अधिक स्वायत्तता और अधिकार प्राप्त होंगे। एक महारत्न पीएसयू सरकार की पूर्व अनुमति के बिना किसी परियोजना में अपनी कुल संपत्ति का 15% निवेश कर सकता है।

लॉक-इन अवधि की समाप्ति

30 मई को पांच और छह महीने की लॉक-इन अवधि समाप्त होने पर IREDA के लगभग 147.8 करोड़ शेयर ट्रेडिंग के लिए पात्र हो जाएंगे। यह संख्या कंपनी की बकाया इक्विटी का 55% है।

महत्वपूर्ण बिंदु:

  • महारत्न का दर्जा: आईआरईडीए ने अपनी वार्षिक डिस्बर्समेंट को 5 गुना से अधिक बढ़ाकर ₹1.36 लाख करोड़ करने का लक्ष्य रखा है।
  • वित्तीय लक्ष्य: कंपनी का लक्ष्य ₹3.5 लाख करोड़ का लोन बुक बनाने का है, जो वर्तमान स्तर से 6 गुना अधिक है।
  • नवरत्न का दर्जा: आईआरईडीए को पहले ही नवरत्न का दर्जा दिया गया है, जो “महारत्न” के लिए एक आवश्यक शर्त है।
  • स्वायत्तता: “महारत्न” दर्जा प्राप्त करने से आईआरईडीए को अधिक स्वायत्तता और अधिकार प्राप्त होंगे।
  • शेयर लॉक-इन: 30 मई को, आईआरईडीए के 147.8 करोड़ शेयर लॉक-इन से मुक्त हो जाएंगे, जिससे ट्रेडिंग में वृद्धि हो सकती है।

IREDA के शेयरों का प्रदर्शन:

  • पिछले 5 दिनों में, आईआरईडीए के शेयरों में लगभग 7% की वृद्धि हुई है।
  • पिछले छह महीनों में, शेयरों ने निवेशकों को तीन गुना से अधिक रिटर्न दिया है।
  • पिछले एक साल में, शेयरों में 220% की वृद्धि हुई है।

IREDA “महारत्न” दर्जा प्राप्त करने की दिशा में मजबूती से आगे बढ़ रहा है। यह दर्जा कंपनी को अक्षय ऊर्जा क्षेत्र में अपनी वृद्धि और नेतृत्व को मजबूत करने में मदद करेगा।

यह भी देखें:सोलर सिस्टम लगेगा इतनी सस्ती कीमत पर, जानिए सब्सिडी और डिस्काउंट ऑफर

सब्सिडी और डिस्काउंट ऑफर के साथ में लगाएं सोलर सिस्टम, कीमत देखें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें