सोलर वाटर हीटर मेंटनेंस कैसे करें

Published By News Desk

Updated on

वर्तमान समय में सौर ऊर्जा का प्रयोग करने वाले उपकरणों का निर्माण बहुततायत में किया जा रहा है। सौर ऊर्जा सूर्य से प्राप्त होने वाली ऊर्जा को कहते हैं, जो प्रचुर मात्रा में हमें प्राप्त होती है। सोलर उपकरणों के माध्यम से हम बिजली का उत्पादन भी कर सकते हैं, पानी गरम कर सकते हैं। वाहनों को संचालित कर सकते हैं। सौर ऊर्जा को भविष्य की ऊर्जा भी कहा जाता है। क्योंकि इसके प्रयोग से संचालित होने वाले उपकरण किसी प्रकार के प्रदूषण को उत्पन्न नहीं करते हैं एवं पर्यावरण के अनुकूल ही कार्य करते हैं।

सोलर वाटर हीटर मेंटनेंस कैसे करें
सोलर वाटर हीटर का रखरखाव कैसे रखें

ऐसे ही सौर ऊर्जा से संचालित होने वाले सोलर वाटर हीटर का रखरखाव (How to maintain a Solar Water Heater) की जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको प्रदान करेंगे। सोलर वाटर हीटर का प्रयोग वर्तमान समय में घरों में, अस्पतालों में, होटलों में आदि अनेक औद्योगिक क्षेत्रों में किया जा रहा है। इसके प्रयोग से उपयोगकर्ता को ग्रिड के द्वारा संचालित होने वाले हीटर पर आश्रित नहीं रहना पड़ता है। इसलिए इसके रखरखाव की जानकारी उपयोगकर्ता को होनी चाहिए, जिस से वह अपने सोलर वाटर हीटर का प्रयोग सुरक्षित एवं लंबे समय तक कर सकता है।

सोलर वॉटर हीटर का रखरखाव कैसे करें

सोलर वाटर हीटर का प्रयोग कर उपयोगकर्ता ग्रिड की बिजली पर आश्रित नहीं रहता है। एवं इसके प्रयोग से पर्यावरण को हरित रखा जा सकता है। क्योंकि इस के प्रयोग से कार्बन फुटप्रिन्ट को कम किया जा सकता है। सोलर वाटर हीटर को कुशलतापूर्वक कार्य करने के लिए समय-समय पर रखरखाव की आवश्यकता होती है, निम्न जानकारी के अनुसार आप अपने सोलर वाटर हीटर का रखरखाव कर सकते हैं:

नियमित निरीक्षण करें

वर्ष भर में कम से कम एक बार उपयोकर्ता को अपने सोलर वाटर हीटर का निरीक्षण करना चाहिए। ऐसा करने पर उसमें होने वाली किसी भी प्रकार की खराबी की जांच की जा सकती है एवं समय रहते ही उसे ठीक किया जा सकता है। इस परीक्षण को सोलर वाटर हीटर के निर्माता ब्रांड के पेशेवर आदमी की उपस्थिति में किया जाना चाहिए। जिस से यदि आपको उपकरण की उचित जानकारी न हो तो वह अपना कार्य कर निरीक्षण कर सकते हैं।

कलेक्टर पैनलों की सफाई करें

कलेक्टर पैनल सूर्य से प्राप्त ऊर्जा का प्रयोग कर उसे एकत्रित करते हैं। ऐसे में उन पैनलों पर धूल-मिट्टी या अन्य प्रकार की कोई गंदगी जमा हो जाती है। जिस से सूर्य की रोशनी सही रूप से उन पैनलों में नहीं पहुँचती है। ऐसे में उनकी अवशोषित क्षमता कम हो जाती है, एवं वे अपनी दक्षता के अनुरूप कार्य का प्रदर्शन नहीं करते हैं। इन्हें महीने में एक बार किसी मुलायम कपड़े/ब्रश या स्पंजी पाइप के द्वारा साफ करना चाहिए। किसी कठोर सामग्री के द्वारा साफ करने पर यह खराब हो सकते हैं।

स्टोरेज टैंक को साफ करें

स्टोरेज टैंक में पानी को जमा किया जाता है। इसमें जमा होने वाले पानी की गुणवत्ता के आधार पर इसकी सफाई की जाती है। पानी में पाए जाने वाले अन्य पदार्थ टैंक के ताल में जमा हो जाते हैं,जिस से टैंक में जंग या रिसाव के लक्षण उत्पन्न हो सकते हैं। जिस से इसकी कार्य करने की क्षमता एवं दक्षता पर प्रभाव पड़ता है। पानी की गुणवत्ता के आधार पर कम से कम 6 महीने में टैंक को साफ करना चाहिए।

अधिक ठंड वाले स्थान में इन्हें खाली कर देना चाहिए। इसमें जब पानी भरें तो निर्धारित मात्रा तक ही पानी भरें। यदि आप इसे साफ नहीं रखते हैं तो इसमें बीमारी उत्पन्न करने वाले बैक्टीरिया उत्पन्न हो जाते हैं। इसलिए इसकी सफाई अनिवार्य होती है।

यह भी देखें:V Guard सोलर वाटर हीटर 200 लीटर की कीमत - V Guard Solar Water Heater 200 Ltr

V Guard सोलर वाटर हीटर 200 लीटर की कीमत

पाइपिंग इंसुलेशन की जांच करें

सोलर हीटर की ओर जोड़े गए एवं उस से बाहर निकलने वाले पाइपों के इंसुलेशन की जांच करनी चाहिए। ऐसा करने से पाइपों को अधिक ताप से सुरक्षित रखा जा सकता है। यदि यह इनशुलेशन किसी प्रकार से क्षतिग्रस्त या खराब हो जाता है तो ऐसे में ताप का संचरण सही प्रकार से नहीं होता है। एवं ताप की हानी होती है।

प्रेशर का ध्यान रखें

सोलर वाटर पैनल में Pressure Relief Valve लगा होता है। इसके द्वारा उस सिस्टम में दबाव निर्माण को रोकने का कार्य किया जाता है। यह एक सुरक्षा सुविधा है, जिस से पूरे सिस्टम को ओवरहीट होने से बचाया जाता है। इसलिए इसकी जांच करनी चाहिए ताकि यह पता चल सके कि यह सही प्रकार से कार्य कर रहा है या नहीं।

Antifreeze Replacement

इसका प्रयोग इनडायरेक्ट सिस्टम में किया जाता है। यदि आपका सोलर वाटर हीटर उसका प्रयोग करता है, तो आप पहले इसके निर्माता से जांच कराएं एवं तब ही इसे लदलें। इसे समय-समय पर बदलना होता है।

विद्युत घटक

यदि आपके सोलर सिस्टम में विद्युत कंपोनेन्ट का प्रयोग किया गया है। तो इनकी जांच किसी एक्सपर्ट के द्वारा की जानी चाहिए। जिस से यह पता किया जा सकते हैं कि वे सही ढंग से कार्य कर रहे हैं या नहीं। इनका प्रयोग सुरक्षा की दृष्टि से किया जाता है।

पंप एवं कन्ट्रोलर की जांच करें

अपने सोलर वाटर हीटर सिस्टम में लगे पाइप एवं कन्ट्रोलर की जांच करें। जिस ये आप यह जान सकें कि सिस्टम अपनी पूर्ण दक्षता से कार्य कर रहा है। ये इस सिस्टम में महत्वपूर्ण घटक होते हैं। कन्ट्रोलर द्वारा ओवरहीट जैसी समस्या होने पर इस सिस्टम को स्वयं ही बंद कर दिया जाता है। पाइपिंग में ढलान का होना आवश्यक होता है।

सोलर वाटर हीटर का नियमित रखरखाव किया जाना चाहिए। समय-समय पर इसकी जांच इसके विशेषज्ञ द्वारा करवानी चाहिए, जिस से सटीक रखरखाव किया जा सकता है। ऐसे क्षेत्र जहां पैनल पर छाया पड़ती है, ऐसे स्थानों में इस सिस्टम को स्थापित नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसे में इनकी कार्य करने की क्षमता में कमी आती है।

सोलर वाटर हीटर का रखरखाव करने से होने वाले लाभ

  • यदि सोलर वाटर हीटर सिस्टम को स्थापित करने वाले उपयोगकर्ता समय-समय पर इस सिस्टम का रखरखाव अच्छे से करते हैं तो ऐसे में सोलर वाटर हीटर की दक्षता को 20% तक बेहतर बनाया जा सकता है। एवं यह लंबे समय तक आपको गर्म पानी प्रदान करता रहेगा।
  • सोलर वाटर हीटर का प्रयोग कर ग्रिड पर आश्रित हीटर पर निर्भर नहीं रहना पड़ता है। जिस से बिजली के बिल में उपयोगकर्ता को अधिक मात्रा में कमी प्राप्त होती है। सोलर वाटर हीटर का रखरखाव करने से यह आपको अधिक समय तक लाभ प्रदान करता है।
  • सही प्रकार से सोलर वाटर हीटर का रखरखाव करने से इसकी लाइफ साइकल को 50% तक बढ़ाया जा सकता है।
  • सोलर वाटर हीटर पर्यावरण के अनुकूल कार्य करता है। इसका प्रयोग कर पर्यावरण में उपस्थित कार्बन फुटप्रिन्ट को कम किया जा सकता है।

निष्कर्ष

अधिकांश सोलर उपकरणों में प्राथमिक निवेश उच्च रहता है। जिस कारण उपभोक्ता इनका प्रयोग नहीं करते हैं। जबकि इनका प्रयोग कर उन्हें ग्रिड एवं जीवाश्म ईंधन से संचालित होने वाली बिजली पर निर्भर नहीं रहना पड़ता है। इनका प्रयोग कर वे लंबे समय तक सुविधा के साथ ही लाभ भी प्राप्त कर सकते हैं। सोलर वाटर हीटर सिस्टम का रखरखाव करने से इसके जीवन काल को बढ़ाया जा सकता है एवं कार्य करने की दक्षता को गिरने नहीं दिया जा सकता है। सोलर उपकरणों का प्रयोग भविष्य में और अधिक मात्रा में किया जाएगा। यह आधुनिक तकनीक के नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा प्रदान करने वाले उपकरण होते हैं।

यह भी देखें:सोलर वाटर हीटर क्या है, इसकी कार्यप्रणाली देखें

सोलर वाटर हीटर क्या है, इसकी कार्यप्रणाली देखें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें