गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल

Published By News Desk

Published on

आज भी हमारे देश में कई ऐसे स्थान हैं जहां इलेक्ट्रिक ग्रिड नहीं है। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की कटौती भारी मात्रा में भी होती है, ऐसे में इस समस्या का समाधान नवीकरणीय ऊर्जा ही है। नवीकरणीय ऊर्जा में सौर ऊर्जा के द्वारा बिजली प्राप्त करने के लिए सोलर पैनल की आवश्यकता होती है। गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल की जानकारी इस लेख से आप प्राप्त कर सकते हैं।

ऐसे में सोलर पैनल के द्वारा बनने वाली बिजली का लाभ नागरिक प्राप्त कर सकते हैं। सोलर पैनल का प्रयोग कर नागरिक लंबे समय तक बिजली का लाभ प्राप्त कर सकता है। सोलर पैनल पर्यावरण के अनुकूल बिजली का निर्माण करते हैं। सोलर पैनल के प्रयोग से बिना किसी प्रदूषण को उत्पन्न किये बिजली का उत्पादन किया जा सकता है।

गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल
गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल

गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल

सोलर पैनल अलग-अलग क्षमता एवं दक्षता के होते हैं, जिनका प्रयोग आप अपनी आवश्यकता के अनुसार सोलर सिस्टम में कर सकते हैं। गाँव में सोलर सिस्टम को स्थापित करने के लिए आपको सोलर पैनल से संबंधित सामान्य जानकारी का होना आवश्यक होता है। गाँव में ऑफग्रिड सोलर सिस्टम को स्थापित कर आप बिजली को प्राप्त कर सकते हैं।

सोलर पैनल का चयन करें

यदि आप के घर या दुकान में एक टीवी, सीलिंग फैन, 4-5 एलईडी बल्ब हैं तो ऐसे में आप 1 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं। सोलर पैनल की क्षमता की जानकारी के लिए आप अपने बिजली बिल या मीटर से लोड की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस सोलर सिस्टम के द्वारा आप अपने घर या दुकान की बिजली की आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं। एवं बिजली कटौती के समय भी बिजली का प्रयोग कर सकते हैं।

सोलर सिस्टम में होने वाला खर्च

1 किलोवाट के इस सोलर सिस्टम में लगने वाले सभी उपकरणों की कीमत के अनुसार इसमें लगभग 75,000 रुपये का खर्च हो सकता है। जिसमें सोलर पैनल की लगभग 30,000 रुपये, इंवर्टर की कीमत लगभग 10,000 रुपये, बैटरी की कीमत लगभग 30,000 रुपये एवं अन्य खर्च लगभग 5,000 रुपये तक हो सकता है। इस सोलर सिस्टम से आप लंबे समय तक बिजली को प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी देखें:चाहे जितनी बिजली फूको अब नहीं आएगा बिजली बिल, बस ये लगवाना है

चाहे जितनी बिजली फूको अब नहीं आएगा बिजली बिल, बस ये लगवाना है

ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम क्या है?

सोलर सिस्टम सामान्यतः ऑन-ग्रिड एवं ऑफ ग्रिड स्थापित किये जाते हैं। ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम में सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को जमा करने के लिए सोलर बैटरी का प्रयोग किया जाता है। जिनके द्वारा आप आवश्यकता पड़ने पर बिजली को प्राप्त कर सकते हैं। इस सोलर सिस्टम में लगने वाली बैटरी की आप सोलर इंवर्टर की रेटिंग एवं अपनी पावर बैकअप की आवश्यकता के अनुसार स्थापित कर सकते हैं।

सोलर पैनल का प्रकार एवं कंपनी

सोलर सिस्टम में प्रयोग होने वाले सोलर पैनल की खरीदते समय आप उसके प्रकार पॉलीक्रिस्टलाइन एवं मोनोक्रिस्टलाइन का चयन कर सकते हैं। मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की कीमत पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल से अधिक होती है। इनकी दक्षता एवं क्षमता भी अधिक होती है। बाजार में आज के समय में सोलर पैनल का निर्माण एवं विक्रय करने वाले अनेक ब्रांड उपलब्ध हैं। आप विश्वसनीय ब्रांड से सोलर पैनल खरीद सकते हैं।

निष्कर्ष

सोलर पैनल के द्वारा आप इलेक्ट्रिक ग्रिड की निर्भरता को कम कर सकते हैं। एवं अपने घर या दुकान में बिजली की आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकते हैं। साथ ही साथ आप पर्यावरण को सुरक्षित रखने में अपना सहयोग प्रदान कर सकते हैं। सोलर सिस्टम का सबसे बड़ा लाभ पर्यावरण को सुरक्षित करना ही है। इसके प्रयोग से ही हरित भविष्य की कल्पना भी की जा सकती है।

यह भी देखें:Polycrystalline सोलर पैनल की क्या कीमत है, देखें

Polycrystalline सोलर पैनल की क्या कीमत है, देखें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें