Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम लगाने में कितना खर्चा आएगा? जानें

Published By News Desk

Published on

सोलर उपकरणों का प्रयोग आज के समय में अधिक तेजी से बढ़ रहा है, सोलर उपकरण पर्यावरण के अनुकूल कार्य करते हैं। इनके इसी महत्व को समझते हुए सरकार द्वारा सोलर उपकरणों के प्रयोग के लिए नागरिकों को सब्सिडी योजना द्वारा प्रोत्साहित किया जा रहा है। सोलर सिस्टम का प्रयोग कर बिजली उत्पादन करना किसी प्रकार के प्रदूषण को उत्पन्न नहीं करता है। यदि आप Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को स्थापित करना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल के माध्यम से आप सोलर सिस्टम में प्रयोग किए जाने वाले उपकरण एवं उसमें होने वाले खर्चे की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम लगाने में कितना खर्चा आएगा? जानें
Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम

सोलर सिस्टम की स्थापना कर के उपयोगकर्ता की जीवाश्म ईंधन की निर्भरताओं को कम किया जाता है, इसके प्रयोग से इलेक्ट्रिक ग्रिड से प्राप्त होने वाले बिजली बिल में छूट देखी जा सकती है। सोलर सिस्टम को स्थापित करने से उपयोगकर्ता आने वाले 20 से 25 साल तक फ्री बिजली को प्रयोग कर सकता है। सोलर सिस्टम को मुख्य रूप से ऑफ-ग्रिड, ऑन-ग्रिड एवं हाइब्रिड प्रकार से स्थापित किया जाता है। सोलर सिस्टम से अन्य कई लाभ उपयोगकर्ता को प्राप्त होते हैं।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में सोलर पैनल

Eapro द्वारा निर्मित पॉलीक्रिस्टलाइन एवं मोनो PERC सोलर पैनल का प्रयोग उपभोक्ता अपने सोलर सिस्टम में कर सकते हैं, सोलर पैनल के द्वारा सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करने का कार्य किया जाता है। यदि आपके घर या प्रतिस्थान या जिस स्थान पर भी आप सोलर सिस्टम स्थापित करना चाहते हैं, वहाँ प्रतिदिन बिजली का लोड 30 से 35 यूनिट तक रहता है, तो आप 7 किलोवाट के सोलर सिस्टम को स्थापित कर सकते हैं, जिसमें प्रयोग होने वाले 7 किलोवाट के सोलर पैनल 35 यूनिट तक बिजली का उत्पादन करने की सामर्थ्य रखते हैं।

  • Eapro के 7 किलोवाट पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की कीमत लगभग 2,00,000 रुपये तक होती है। इस प्रकार के सोलर पैनल सर्वाधिक प्रयोग किए जाते हैं, जिसका कारण इनकी कीमत का कम होना है, इन्हें स्थापित करने के लिए अधिक स्थान चाहिए होता है।
  • Eapro के 7 किलोवाट मोनो PERC सोलर पैनल की कीमत लगभग 2,30,000 रुपये तक होती है। मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल उच्च दक्षता के सोलर पैनल होते हैं। जिस कारण से इनकी कीमत भी अधिक होती है, इन्हें प्रयोग करने के कई लाभ होते हैं। ये कम स्थान पर स्थापित किए जा सकते हैं। एवं कम धूप में भी बिजली उत्पादन करने में सक्षम हैं।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में सोलर इंवर्टर

किसी भी सोलर सिस्टम में सोलर इंवर्टर का प्रयोग सोलर पैनल या सोलर बैटरी से प्राप्त होने वाली बिजली को जो कि दिष्ट धारा DC के रूप में होती है, को AC प्रत्यावर्ती धारा में परिवर्तित करना होता है। Eapro एडवांस तकनीक के सोलर इंवर्टर के निर्माण के लिए प्रसिद्ध है। 7 किलोवाट का सोलर सिस्टम घर के लगभग सभी उपकरणों को संचालित करने की बिजली बना सकता है, इसमें निम्न सोलर इंवर्टर का प्रयोग किया जा सकता है:-

EAPRO SOLAR HYBRID INVERTER/PCU Model: Solar-7K5 यह PWM (Pulse Width Modulation) तकनीक का एडवांस सोलर इंवर्टर है। इस सोलर इंवर्टर पर लगे PWM तकनीक के सोलर चार्ज कन्ट्रोलर की करंट रेटिंग 50 A होती है। इस सोलर इंवर्टर पर अधिकतम 8000 वाट के सोलर पैनल का प्रयोग किया जा सकता है, इस इंवर्टर से 7.5 KVA तक का लोड चलाया जा सकता है। इस इंवर्टर की VOC 216 वोल्ट है। सोलर सिस्टम के लिए Eapro सोलर इंवर्टर

इस सोलर इंवर्टर द्वारा Pure Sine Wave आउटपुट प्रदान किया जाता है। Eapro Solar 7K5 की नॉमिनल बैटरी वोल्टेज 120 वोल्ट है, इस इंवर्टर पर 10 सोलर बैटरियों को जोड़ा जा सकता है। जो Flat, Tubular या VRLA प्रकार की हो सकती है। इस सोलर इंवर्टर पर सुरक्षा एवं संचालन के लिए कई फीचर्स प्रदान किए गए हैं। इसकी कीमत लगभग 70,000 रुपये तक है। निर्माता ब्रांड Eapro द्वारा इस पर 2 साल की वारंटी प्रदान की जाती है।

Eapro सोलर बैटरी की कीमत

सोलर बैटरियों के द्वारा पैनल से बनने वाली बिजली को DC रूप में संग्रहीत किया जाता है, संग्रहीत बिजली का प्रयोग पावर बैकअप के लिए किया जाता है। 7 किलोवाट के सोलर सिस्टम में लगे Eapro 7K5 सोलर इंवर्टर में 10 बैटरियों को जोड़ा जाता है। सोलर बैटरियाँ अलग-अलग क्षमता एवं रेटिंग की होती हैं, जिनका प्रयोग उपभोक्ता अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं। इनकी कीमत इस प्रकार है:-

  • Eapro की 100 Ah की सोलर बैटरी की कीमत लगभग 9,000 रुपये तक है।
  • Eapro की 150 Ah की सोलर बैटरी की कीमत लगभग 13,000 रुपये तक है।
  • Eapro की 170 Ah की सोलर बैटरी की कीमत लगभग 16,000 रुपये तक है।

सोलर सिस्टम के अन्य खर्चे

सोलर सिस्टम में होने वाले अन्य खर्चों में उसमें प्रयोग होने वाले मुख्य उपकरणों के अतिरिक्त अन्य छोटे उपकरणों की कुल कीमत एवं सोलर सिस्टम की स्थापना करने वाले कर्मचारियों का भुगतान शुल्क सम्मिलित होता है। सोलर सिस्टम में प्रयोग होने वाले अन्य उपकरण सोलर सिस्टम की सुरक्षा एवं कनेक्शन स्थापित करने के लिए प्रयोग किए जाते हैं। इनमें पैनल स्टैन्ड, ACDB/DCDB बॉक्स, अर्थिंग एवं वाइरिंग जैसे उपकरण शामिल हैं। इस सोलर सिस्टम में अन्य खर्च लगभग 50,000 रुपये तक हो सकता है।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में कुल खर्चा

सोलर सिस्टम का कुल खर्च सोलर पैनल के प्रकार के द्वारा निर्धारित किया जा सकता है। कुल खर्चा उपभोक्ता द्वारा ऑनलाइन एवं ऑफलाइन माध्यम से सोलर उपकरणों को खरीदने के कारण कम या ज्यादा हो सकता है। यहाँ दी गई सारणियों में सोलर सिस्टम के औसत खर्च की गणना की गई है:-

सोलर सिस्टम में पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल का प्रयोग करने पर कुल खर्चा:-

यह भी देखें:घर में Exide 3 Kw Solar System लगाने में होने वाला खर्चा देखें। बिजली बिल में छूट पाएं

घर में Exide 3 Kw Solar System लगाने में होने वाला खर्चा देखें, बिजली बिल में छूट पाएं

Eapro सोलर उपकरण एवं अन्यकीमत
7 किलोवाट क्षमता के पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल2,00,000 रुपये
EAPRO SOLAR HYBRID INVERTER/PCU Model: Solar-7K570,000 रुपये
100 Ah x 10 सोलर बैटरी90,000 रुपये
अन्य खर्च50,000 रुपये
कुल खर्चा4,10,000 रुपये

सोलर सिस्टम में मोनो PERC सोलर पैनल प्रयोग करने पर कुल खर्चा:-

Eapro सोलर उपकरण एवं अन्यकीमत
7 किलोवाट क्षमता के Mono PERC सोलर पैनल2,30,000 रुपये
EAPRO SOLAR HYBRID INVERTER/PCU Model: Solar-7K570,000 रुपये
150 Ah x 10 सोलर बैटरी1,30,000 रुपये
अन्य खर्च50,000 रुपये
कुल खर्चा4,80,000 रुपये

दी गई सारणियों में ऑफग्रिड सोलर सिस्टम की स्थापना का कुल खर्च दिया गया है, यदि आप ऑनग्रिड सोलर सिस्टम स्थापित करना चाहते हैं तो आप उपर्युक्त सारणी में से सोलर बैटरियों की कीमत हटा सकते हैं।

सोलर सिस्टम को स्थापना पर सब्सिडी पाएं

सोलर सिस्टम पर्यावरण के अनुकूल बिजली का उत्पादन करते हैं, जिसका अर्थ यह होता है कि इनके द्वारा किसी प्रकार का कोई प्रदूषण उत्पन्न नहीं होता है। सोलर सिस्टम के इसी महत्व को समझते हुए सरकार द्वारा सोलर सिस्टम को स्थापित करने पर सोलर सब्सिडी प्रदान की जाती है। भारत सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के द्वारा सोलर रुफटॉप सब्सिडी योजना चलाई जाती है। जिसमें नागरिक को 10 किलोवाट तक के सोलर सिस्टम को ऑनग्रिड स्थापित करने पर सब्सिडी दी जाती है।

इस योजना का आवेदन करने के बाद 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में पहले 3 किलोवाट पर नागरिक को 40% सब्सिडी दी जाती है, उसके बाद के 4 किलोवाट सोलर सिस्टम पर 20% सब्सिडी नागरिक को प्रदान की जाती है। इस सोलर सिस्टम में बिजली को ग्रिड के साथ साझा किया जाता है, जिसमें यूनिट की रीडिंग के लिए नेट-मीटर का प्रयोग होता है। इसमें सोलर बैटरियों का प्रयोग भी नहीं किया जाता है।

यह भी देखें: सोलर सब्सिडी प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक कर आवेदन करें

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को ऑफग्रिड स्थापित करने में कुल कितना खर्चा हो सकता है?

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को ऑफग्रिड स्थापित करने में कुल खर्चा 4 लाख से 5 लाख रुपये तक हो सकता है।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को ऑन ग्रिड स्थापित करने में सब्सिडी के साथ कुल कितना खर्चा हो सकता है?

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को ऑन ग्रिड स्थापित करने में सब्सिडी के साथ कुल खर्चा 2.80 लाख से 4 लाख रुपये तक हो सकता है।

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में कौन से इंवर्टर का प्रयोग किया जा सकता है?

Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम में PWM तकनीक के EAPRO SOLAR HYBRID INVERTER/PCU Model: Solar-7K5 इंवर्टर का प्रयोग किया जा सकता है।

Eapro Global LTD. सोलर कंपनी की शुरुआत कब हुई?

Eapro Global Ltd. सोलर कंपनी की शुरुआत 2012 में हुई।

उपरोक्त आर्टिकल के माध्यम से आप Eapro 7 किलोवाट सोलर सिस्टम को स्थापित करने में प्रयोग किए जाने वाले उपकरणों एवं स्थापना में होने वाले कुल खर्चे की गणना कर सकते हैं। सोलर सब्सिडी के माध्यम से आप इस सोलर सिस्टम को स्थापित करने में छूट प्राप्त कर सकते हैं। सोलर सिस्टम की स्थापना से नागरिक ग्रिड बिजली के बिल में छूट प्राप्त करने के साथ ही पर्यावरण को सुरक्षित रखने में सहायता प्रदान कर सकता है।

यह भी देखें:सोलर पैनल लगाना क्यों जरूरी है? क्या है फायदे, सब्सिडी के बाद क्या होगी कीमत

सोलर पैनल लगाना क्यों जरूरी है? क्या है फायदे, सब्सिडी के बाद क्या होगी कीमत

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें