Renewable Energy और Nonrenewable Energy में क्या अंतर हैं, फायदेमंद कौन है?

Renewable Energy और Nonrenewable Energy का प्रयोग आज के समय में अधिक किया जा रहा है, इनकी विशेषताओं एवं लाभ से इनमें आसानी से अंतर किया जा सकता है।

Published By News Desk

Published on

Renewable Energy और Nonrenewable Energy में क्या अंतर हैं, फायदेमंद कौन है?
Renewable Energy और Nonrenewable Energy में क्या अंतर हैं, फायदेमंद कौन है?

जैसे-जैसे समय आगे बढ़ रहा है, वैसे ही ऊर्जा की जरूरत भी लगातार ही बढ़ रही हैं। ऊर्जा कई प्रकार की होती है। यहाँ Renewable Energy और Nonrenewable Energy की जानकारी जानें। ऊर्जा के इन स्रोत द्वारा कई कार्य किए जाते हैं, इन ऊर्जाओं की पूरी जानकारी जानने के बाद आप यह जान सकते हैं, कि कौन सी ऊर्जा ज्यादा लाभ उपयोगकर्ता को प्रदान करने में सक्षम होती है। Renewable Energy और Nonrenewable Energy दोनों का प्रयोग ही आज के समय में किया जाता है।

Renewable Energy क्या है?

Renewable Energy को नवीकरणीय ऊर्जा या अक्षय ऊर्जा कहा जाता है, इस प्रकार की ऊर्जा को प्रचुर मात्रा में ऐसे स्रोतों से प्राप्त किया जाता है जो लगातार ऊर्जा प्रदान कर सकते हैं। Renewable Energy में सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा, जलविद्युत ऊर्जा एवं भूतापीय ऊर्जा होती है। नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोत से ऐसी ऊर्जा प्राप्त होती है, जिसके द्वारा पर्यावरण को स्वच्छ एवं सुरक्षित रखा जा सकता है, इस ऊर्जा को प्रयोग करने से उपयोगकर्ताओं को अनेक लाभ प्राप्त होते हैं। प्राकृतिक स्रोतों से प्राप्त होने वाली इस ऊर्जा के प्रयोग से ही हरित भविष्य की ओर बढ़ा जा सकता है।

Renewable Energy की विशेषताएं

Renewable Energy की विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

  • अक्षय ऊर्जा के संसाधनों पुनर्चक्रण योग्य होते हैं, ये संसाधन स्वयं को आसानी से पुनर्स्थापित करने में सक्षम होते हैं।
  • नवीकरणीय ऊर्जा के द्वारा पर्यावरण में पारिस्थितिक विकास होता है, क्योंकि यह ऊर्जा प्राकृतिक स्रोतों के माध्यम से प्राप्त होता है, इस ऊर्जा संसाधनों को रीसाइकल करने लिए एक निश्चित समयावधि की आवश्यकता होती है।
  • Renewable Energy से Nonrenewable Energy बनाई जा सकती है, नवीकरणीय ऊर्जा का प्रयोग अत्यधिक मात्रा में किया जा सकता है।

नवीकरणीय स्रोत से होने वाले लाभ

  • नवीकरणीय ऊर्जा प्राकृतिक स्रोत से प्राप्त होती है, यह प्रचुर मात्रा में हमें मिलती है, जैसे सूर्य से प्राप्त होने वाली सौर ऊर्जा अरबों सालों से हमें मिल रही है, एवं यह एक ऐसी ऊर्जा है जो कभी खत्म नहीं हो सकती है।
  • नवीकरणीय ऊर्जा के माध्यम से पर्यावरण को सुरक्षित रखा जा सकता है, क्योंकि इनके माध्यम से पर्यावरण के अनुकूल ही कार्य किया जाता है। इस ऊर्जा के प्रयोग से किसी प्रकार से पर्यावरण को प्रदूषित नहीं किया जाता है।
  • नवीकरणीय ऊर्जा जीवाश्म ईंधन से प्राप्त होने वाली गैर-नवीकरणीय ऊर्जा की तुलना में अधिक लाभ प्रदान करती है, इस प्रकार के स्रोत आसानी से भी प्राप्त हो जाते है, नवीकरणीय ऊर्जा विश्वसनीय है, यह ऊर्जा सभी स्थानों में समान रूप से मिलती है।
  • नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों को कम रखरखाव की आवश्यकता ही है, इनके प्रोजेक्ट को एक बार सही से स्थापित करने के बाद लंबे समय तक प्रयोग किया जा सकता है। इन ऊर्जाओं के प्रयोग से बिजली का उत्पादन किया जाता है। इन उपकरणों में प्राथमिक निवेश अधिक होता है, लेकिन एक बार स्थापित करने के बाद लंबे समय तक इनका लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

Nonrenewable Energy क्या होती है?

SolarDukan से अब व्हाट्सप्प पर जुड़ें, क्लिक करें WhatsApp

गैर-नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत समय के साथ समाप्त हो जाएंगे। इनमें जीवाश्म ईंधन (गैस, कोयला, तेल) गैर-नवीकरणीय ऊर्जा के उदाहरण होते हैं। आज के समय में अधिकांश ऊर्जा के स्रोत प्राकृतिक ऊर्जा से चलाए जा रहे हैं, गैर-नवीकरणीय ऊर्जा से पर्यावरण भारी मात्रा में प्रदूषित होता है, इन ऊर्जा स्रोतों से हानिकारक गैसें उत्सर्जित होती है। गैर-नवीकरणीय ऊर्जा संसाधन सीमित है, एक बार प्रयोग हो जाने के बाद ये पुनः प्राप्त नहीं किए जा सकते हैं।

यह भी देखें:सामान्य इंवर्टर की बजाय साइन वेव इंवर्टर चुनने के मुख्य कारण

सामान्य इंवर्टर की बजाय साइन वेव इंवर्टर चुनने के मुख्य कारण

Nonrenewable Energy स्रोतों की विशेषताएं

  • इस प्रकार के ऊर्जा स्रोत सामान्यतः खनिजों के रूप में प्राप्त किए जाते हैं, जिन्हें धरती के नीचे से प्राप्त किया जाता है।
  • गैर-नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत सीमित होते हैं, ये अधिक मात्रा में उपलब्ध नहीं हैं।
  • Nonrenewable Energy को ठोस, द्रव, गैस के रूप में प्राप्त किया जाता है, इनके उदाहरण जीवाश्म ईंधन होते हैं।

गैर-नवीकरणीय स्रोत से होने वाले लाभ

गैर-नवीकरणीय स्रोत से होने वाले लाभ इस प्रकार होते हैं:-

  • गैर-नवीकरणीय स्रोत का प्रयोग करना आसान है, क्योंकि इन्हें स्टोर करना भी आसान होता है, साथ ही इस प्रकार के ऊर्जा के रूपों को ट्रांसपोर्ट करना आसान है।
  • नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों की तुलना में गैर-नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों से अधिक ऊर्जा प्राप्त की जाती है।
  • गैर-नवीकरणीय ऊर्जा से पाइपलाइन के निर्माण, जीवाश्म ईंधन की बिक्री, कोयले के खनन में आधिक लाभ प्राप्त किया जाता है।
  • गैर नवीकरणीय ऊर्जा संसाधनों के द्वारा अनेक प्रकार के रोजगार भी प्राप्त किए जा सकते हैं, इस प्रकार की ऊर्जा को प्राप्त करने में होने वाली अनेक प्रक्रियाओं में रोजगार प्राप्त किया जा सकता है।

Renewable Energy और Nonrenewable Energy फायदेमंद कौन है?

पर्यावरण को स्वच्छ एवं सुरक्षित रखने के लिए नवीकरणीय ऊर्जा का प्रयोग आवश्यक होती है, गैर नवीकरणीय ऊर्जा संसाधन से पर्यावरण भारी मात्रा में प्रदूषित होता है। दोनों ही ऊर्जाएं उपयोगकर्ताओं को लाभ प्रदान करती है। नवीकरणीय ऊर्जा प्रचुर मात्रा में उपलब्ध रहती है, जबकि गैर-नवीकरणीय ऊर्जा सीमित मात्रा में उपलब्ध है। नवीकरणीय ऊर्जा के उपकरणों में निवेश अधिक होता है, Nonrenewable Energy कम कीमत में भी प्राप्त हो जाती है। नवीकरणीय ऊर्जा को अधिक फायदेमंद कहा जाता है, क्योंकि इनके प्रयोग से धरती को सुरक्षित रखा जा सकता है।

Nonrenewable Energy के प्रयोग को अधिक मात्रा में नहीं किया जा सकता है, क्योंकि यह सीमित होने के कारण जल्दी खत्म हो जाती है। अक्षय ऊर्जा स्रोतों को एक बार स्थापित करने के बाद लंबे समय तक इनका प्रयोग किया जा सकता है। इन प्रोजेक्ट से भी पर्यावरण को नुकसान होता है, जैसे डैम से भौगोलिक रूप से धरती को नुकसान होता है। लेकिन गैर-नवीकरणीय ऊर्जा की तुलना में ये स्रोत अधिक फायदेमंद होते हैं। इस प्रकार आप Renewable Energy और Nonrenewable Energy में अंतर देख सकते हैं।

SolarDukan से अब व्हाट्सप्प पर जुड़ें, क्लिक करें WhatsApp
यह भी देखें:इन कारणों से आपको नहीं मिलेगी सोलर सब्सिडी, तुरंत जानें

इन कारणों से आपको नहीं मिलेगी सोलर सब्सिडी, तुरंत जानें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें