क्या घर पर सोलर पैनल बना सकते हैं? जानें Solar Panel कैसे बनाएं

सोलर पैनल एक ऐसा उपकरण है जो सौर ऊर्जा से बिजली बनाने में प्रयोग किया जाता है, सोलर पैनल घर पर भी बनाया जा सकता है।

Published By News Desk

Published on

सौर ऊर्जा, ऊर्जा का एक नवीकरणीय स्रोत है, जो सूर्य के माध्यम से हमें प्राप्त होती है। सौर ऊर्जा के द्वारा अनेक लाभ प्राप्त होते हैं, यह पर्यावरण को स्वच्छ एवं सुरक्षित रखने में सहायक होते हैं। सौर ऊर्जा से बिजली प्राप्त करने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग किया जाता है, सोलर पैनल एक ऐसा उपकरण है, जो बिना किसी प्रदूषण को उत्पन्न कर ही बिजली का निर्माण कर सकता है। आज के समय में जहां पर्यावरण भारी मात्रा में प्रदूषित हो गया है, जिससे ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्याएं देखी जा सकती है, ऐसे में सोलर पैनल एक कुशल उपकरण है। क्या घर पर सोलर पैनल बना सकते हैं? (Build Solar at Home) यहाँ जानें।

क्या घर पर सोलर पैनल बना सकते हैं? जानें Solar Panel कैसे बनाएं

क्या घर पर सोलर पैनल बना सकते हैं?

सोलर पैनल पर विचार करते हुए यह सवाल भी होता है कि क्या घर पर सोलर पैनल बना सकते हैं? तो इसका जवाब हाँ है। सोलर पैनल को घर पर मेहनत के साथ बनाया जा सकता है, जिसके प्रयोग से बिजली का निर्माण किया जा सकता हो, और जीवाश्म ईंधन जैसे पेट्रोल, डीजल आदि की निर्भरता को कम कर सकते हैं। और पर्यावरण प्रदूषण की मात्रा को घटाया जा सकता है। सोलर पैनल से बनने वाली बिजली का प्रयोग कर के ग्रिड बिजली की निर्भरता को भी कम किया जा सकता है, जिससे बिजली के बिल से भी राहत प्राप्त की जा सकती है।

घर में सोलर पैनल बनाने के लिए सबसे पहले उसमें प्रयुक्त होने वाले घटकों को जमा करना होता है, सोलर पैनल का सबसे महत्वपूर्ण घटक सोलर सेल है, सोलर सेल के द्वारा ही सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है। सोलर पैनल में सोलर सेल को कनेक्ट किया जाता है, पैनल बॉक्स का निर्माण किया जाता है, पैनल में वायरिंग करनी होती है, एवं बॉक्स को सील करना होता है, इसके बाद सोलर पैनल बन जाता है, जिसे सही से माउंट करना जरूरी होता है, जिससे यह उचित मात्रा में धूप को प्राप्त कर सकता है, और बिजली का निर्माण पूरी क्षमता के साथ कर सकता है।

सोलर पैनल बनाने की विधि

सोलर पैनल को घर में बनाने के लिए निम्न स्टेप का पालन करें:-

यह भी देखें:घर में Laptop / Computer चलाने के लिए लगाएँ Solar Panel, कितने वाट का सही रहेगा जानें अभी

घर में Laptop / Computer चलाने के लिए लगाएँ Solar Panel, कितने वाट का सही रहेगा जानें अभी

  • सोलर सेल खरीदें– सोलर पैनल के सबसे महत्वपूर्ण घटक सोलर सेल अलग-अलग प्रकार के होते हैं, इनमें से पॉलीक्रिस्टलाइन प्रकार के सेल को आप खरीद सकते हैं, ऐसे सोलर सेल घर के लिए उपयुक्त बिजली का निर्माण कर सकते हैं। सोलर सेल की संख्या का चयन आप आवश्यक बिजली के आधार पर कर सकते हैं। सोलर पैनल खरीदने से पहले निम्न जानकारी का होना आवश्यक है:-
    • सोलर सेल बहुत नाजुक होते हैं, इसलिए कुछ अतिरिक्त सेल भी आप खरीद सकते हैं, जिससे किसी के खराब होने पर आप दूसरे का प्रयोग कर सकते हैं।
    • सोलर सेल को आप अपने नजदीकी बाजार से या ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म से खरीद सकते हैं। यदि सोलर सेल वेक्स के साथ में उपलब्ध रहते हैं तो आप वेक्स को साफ करने के लिए उन्हें हल्के गरम पानिमेन रख सकते हैं।
    • सोलर सेल की कीमत 100 रुपये प्रति वाट से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • बोर्ड का निर्माण करें– सोलर सेल को खरीदने एवं साफ करने के बाद आप उन्हें ग्लास, प्लास्टिक या लकड़ी जैसे कुचालक पदार्थों से बने पतले बोर्ड से अटैच कर सकते हैं। जिसके लिए आप अपनी आवश्यकता एवं सेल की संख्या के अनुसार बोर्ड का मापन करें, एवं सही साइज़ में उसे काट दें। बोर्ड बनाते समय निम्न बिंदुओं को ध्यान में रखें:-
    • बोर्ड को दोनों साइड से कुछ स्थान जैसे 1 या 2 इंच तक छोड़ दें, इस स्थान में वायरिंग की जा सकती है।
    • बोर्ड बनाने के लिए आप लड़की का प्रयोग कर सकते हैं, इसमें ड्रिलिंग करने में आसानी होती है, जिस के ऊपर सेल के तार को भेजने के लिए ड्रिल के माध्यम से आसानी से छेद किया जा सकता है।
  • वायर की माप लें एवं कट करें– बोर्ड में लगने वाले सेल में आपको एक दिशा में छोटी लाइन की बड़ी संख्या दिखेगी, एवं दूसरी ओर दो लाइन की छोटी दूरी दिखती है, टैबिंग वायर को दो बड़ी लाइन पर लेकर जाएँ एवं इसे दूसरे सोलर सेल के पीछे कनेक्ट कर दें। अब बड़ी लाइन की लंबाई की गणना करें और इस लंबाई को दोगुना कर लें, इसके बाद आप हर एक सेल के लिए टैबिंग वायर को दो भागों में काट दें।वायर की माप लें एवं कट करें
  • Flux करें– Flux पेन के प्रयोग से सेल स्ट्रिप की लंबाऊ के ग्रुप के नीचे 2-3 लाइन को फ्लक्स करें, एवं सेल के पिछले भाग पर इसकी पुष्टि करें। सोल्डरिंग के द्वारा उत्पन्न होने वाली हीट से फ्लक्स के माध्यम से ऑक्सीकरण उत्पन्न करने से सोलर सेल को सुरक्षित रखा जा सकता है।
  • टैबिंग को सोल्डर करें– सेल स्ट्रिप्स के पिछले भाग पर एक पतली कोटिंग मेल्ट करने के लिए सोल्डरिंग की जाती है, जिसके लिए सोल्डरिंग आइरन कर प्रयोग किया जाता है, यदि आपके पास पहले से सोल्डर की गई टैबिंग हो तो आपका समय बचाया जा सकता है, क्योंकि यह प्रक्रिया थोड़ी लंबी एवं जटिल होती है। सोल्डर्ड सेल स्ट्रिप्स की कीमत अधिक हो सकती है। टैबिंग को सोल्डर करें
  • सेल को वायर से जोड़ें– सोल्डरिंग आइरन से बनने वाली हीट से टैबिंग वायर पहले भाग को गर्म करें, एवं वायर के अंटींग भाग को सेल से जोड़ें, इस प्रकार सभी सेलों को वायर से जोड़ें।

सोलर पैनल बनाने में आवश्यक घटक

सोलर पैनल बनाने में आवश्यक घटक इस प्रकार हैं:-

  • सोलर सेल
  • टैबिंग वायर (यदि पहले से सोल्डर किया हो तो आसानी से सोलर पैनल बनाया जा सकता है)
  • Flux पेन
  • बस वायर
  • सोल्डरिंग आइरन
  • सिल्वर सोल्डर

इस प्रकार आप सोलर पैनल को पूरी तरह से घर पर ही बना सकते हैं, सोलर पैनल को बनाने के बाद आप इसका परीक्षण करने के लिए इसे धूप के सामने रखें, जिससे इसके द्वारा बनने वाली बिजली से आप बैटरी को चार्ज कर सकते हैं। सोलर पैनल को बनाने की अन्य प्रक्रिया भी होती है, सोलर पैनल बनाते समय सुरक्षा का पूरा ध्यान रखें। सोलर पैनल का निर्माण करने से आप कम कीमत में सोलर पैनल को बना सकते हैं। एवं उससे बनने वाली बिजली का प्रयोग लंबे समय तक कर सकते हैं। एवं बिजली की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।

यह भी देखें:Adani Topcon सोलर पैनल, सबसे हाई-टेक्नोलॉजी वाले सोलर पैनल, फाइनेंस और सब्सिडी के साथ

Adani Topcon सोलर पैनल, सबसे हाई-टेक्नोलॉजी वाले सोलर पैनल, फाइनेंस और सब्सिडी के साथ

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें