UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर का उपयोग कर बनाएं एक मजबूत सोलर सिस्टम, पूरी जानकारी जानें

UTL के सोलर उपकरणों का प्रयोग कर अपने सोलर सिस्टम को मजबूत बनाया जा सकता है। क्योंकि यह भारत का एक विश्वसनीय ब्रांड है।

Published By News Desk

Published on

सोलर सिस्टम की मांग तेजी से बढ़ रही है, आज के समय में ज्यादा से ज्यादा उपभोक्ता सौर ऊर्जा की तरफ आकर्षित हो रहे हैं, सौर ऊर्जा सूर्य से प्राप्त होने वाली एक प्राकृतिक ऊर्जा है, जो पर्याप्त मात्रा में हमें प्राप्त होती है। सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलने के लिए सोलर पैनल का प्रयोग किया जाता है, सोलर सिस्टम में प्रयोग किए जाने वाले सभी उपकरण पर्यावरण के अनुकूल कार्य करने के लिए जाने जाते हैं। UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर (ULT Sigma Plus Solar PCU 5kVA/48V) का प्रयोग आप अपने सोलर सिस्टम में कर सकते हैं, यह एक उच्च क्षमता का सोलर इंवर्टर होता है।

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर का उपयोग कर बनाएं एक मजबूत सोलर सिस्टम, पूरी जानकारी जानें
UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर

सोलर इंवर्टर क्या कार्य करता है?

किसी भी सोलर सिस्टम में मुख्य उपकरणों के रूप में सोलर पैनल, सोलर इंवर्टर एवं सोलर बैटरी का प्रयोग किया जाता है। सोलर पैनल के द्वारा सौर ऊर्जा से बिजली का उत्पादन किया जाता है, सोलर पैनल बिजली को दिष्ट धारा DC के रूप में बनाते हैं, बिजली के इस रूप को बैटरी में स्टोर भी किया जा सकता है। घरों में चलाए जाने वाले अधिकांश विद्युत उपकरण प्रत्यावर्ती धारा के माध्यम से चलाए जाते हैं, सोलर इंवर्टर का प्रयोग कर के DC को AC में परिवर्तित किया जा सकता है, इसलिए ही सोलर इंवर्टर को एक सोलर सिस्टम का हृदय कहा जाता है।

सोलर इंवर्टर मुख्य रूप से दो तकनीक के चार्ज कंट्रोलरों के साथ बाजारों में उपलब्ध रहते हैं, PWM (Pulse Width Modulation) प्रकार के सोलर इंवर्टर के द्वारा सिर्फ वोल्टेज को ही नियंत्रित किया जा सकता है, ऐसे कंट्रोलर पैनल से बनने वाले बिजली की धारा को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं। MPPT (Maximum Power Point Tracking) प्रकार के सोलर चार्ज कंट्रोलर वाले सोलर इंवर्टर एडवांस तकनीक के सोलर इंवर्टर होते हैं, ऐसे सोलर इंवर्टर वोल्टेज एवं करंट दोनों को ही नियंत्रित करते हैं। MPPT तकनीक के इंवर्टर PWM तकनीक के इंवर्टर से 30% अधिक दक्षता वाले होते हैं।

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर

UTL सोलर उपकरणों का निर्माण करने वाला भारत का एक प्रसिद्ध ब्रांड है, जिसके द्वारा सभी प्रकार के सोलर उपकरणों का निर्माण किया जाता है, ऐसे ही UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर है, जिसका प्रयोग हाइब्रिड प्रकार के सोलर सिस्टम में किया जा सकता है, हाइब्रिड प्रकार के सोलर सिस्टम में सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को सोलर बैटरी में संग्रहीत कर सकते हैं, साथ ही ऐसे सिस्टम में सोलर पैनल से बनने वाली बिजली को ग्रिड के साथ भी शेयर किया जा सकता है। हाइब्रिड सोलर सिस्टम एक आधुनिक प्रकार का सोलर सिस्टम होता है।

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर स्टैन्ड-अलोन और ग्रिड इंटरैक्टिव मोड के फीचर्स के साथ प्रदान किया जाता है, यह उच्च गुणवत्ता वाला सोलर इंवर्टर है, जिसे मजबूत रूप से डिजाइन किया गया है। इस इन्वर्टर का प्रयोग करने से उपयोगकर्ता को अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं, यह पर्यावरण को स्वच्छ एवं सुरक्षित रखने में सहयोग प्रदान करने वाला उपकरण है। इसका प्रयोग 5 किलोवाट क्षमता तक के सोलर सिस्टम में किया जा सकता है।

यह भी देखें:जानिए क्या सोलर सिस्टम काम करते हैं बिना बैटरी के? जानिए कौन सा सोलर सिस्टम बेस्ट है आपके लिए

क्या सोलर सिस्टम बिना बैटरी के काम करते हैं? बेस्ट सोलर सिस्टम देखें

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर की विशेषताएं

इस सोलर इंवर्टर की विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

  • UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर को DSP आधारित Pure Sine Wave आउटपुट प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया है। इस प्रकार के हाइब्रिड सोलर इंवर्टर के द्वारा कुशल सोलर सिस्टम की स्थापना की जा सकती है।
  • इस सोलर इंवर्टर में उच्च दक्षता वाला rMPPT सोलर चार्ज कंट्रोलर लगा होता है। यह इंवर्टर स्टैंड-अलोन एवं ग्रिड-इंटरैक्टिव दो मोड में कार्य करता है। स्टैंड-अलोन मोड में इंवर्टर बैटरी के द्वारा चलता है, और AC आउटपुट प्रदान करता है। बैटरी को प्राइमरी रूप से सौर ऊर्जा से चार्ज किया जाता है। ग्रिड-इंटरैक्टिव मोड में बैटरी के अतिरिक्त सौर ऊर्जा वाली बिजली ग्रिड के साथ शेयर की जाती है। इसमें ग्रिड में अधिकतम बिजली फ़ीड सिस्टम रेटिंग पर निर्भर करती है।
  • इस इंवर्टर को यूजर फ़्रेंडली बनाने के लिए इसमें एलसीडी डिस्प्ले प्रदान की जाती है। जिसमें सोलर सिस्टम में चलने वाली प्रक्रियाओं की रेटिंग देखी जा सकती है। इस इंवर्टर को रिवर्स एसी वोल्टेज संरक्षण के साथ मजबूती से डिजाइन किया गया है।
  • यह सोलर इंवर्टर प्राथमिकता आधारित मोड में स्मार्ट, पीसीयू एवं हाइब्रिड रूप में कार्य करता है, सौर ऊर्जा को अधिकतम प्राथमिकता प्रदान की गई है।
  • UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर की लाइफ साइकिल 20 वर्ष बताई गई है। इस सोलर इंवर्टर पर UTL द्वारा उपभोक्ता को 5 साल की वारंटी प्रदान की गई है। इस सोलर इंवर्टर को स्थापित करना आसान है, इसमें कम रखरखाव की आवश्यकता होती है।
  • पर्यावरण को सुरक्षित रखने में ऐसे सोलर इंवर्टर का प्रयोग किया जा सकता है, क्योंकि ऐसे उपकरण कार्बन उत्सर्जन को कम करते हैं। घरेलू एवं व्यवसायिक क्षेत्रों के लिए UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर को कुशल कहा जाता है।

यह भी देखें: UTL के 10 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम को लगाने में कितना खर्चा होगा?

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर कैसे खरीदें?

UTL के डीलर आज के समय में लगभग हर बड़े बाजार में हैं, जिनके माध्यम से आप अपने नजदीकी बाजार से सोलर इंवर्टर को खरीद सकते हैं, यदि आप ऑनलाइन माध्यम से UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर को खरीदना चाहते हैं तो ऐसे में आप UTL Sigma Plus Solar PCU 5kVA/48V पर क्लिक कर UTL की आधिकारिक वेबसाइट से इसे खरीद सकते हैं। इस सोलर इंवर्टर को 61,000 रुपये में खरीद सकते हैं, जिस पर सभी प्रकार के टैक्स पहले से ही जोड़ दिए गए हैं, ब्रांड द्वारा लभग 50 % की छूट अपने सोलर उत्पाद पर प्रदान की गई है।

UTL Sigma Plus 5kVA/48V हाइब्रिड सोलर इंवर्टर का प्रयोग अपने सोलर सिस्टम में कर के आप एक कुशल सोलर सिस्टम की स्थापना कर सकते हैं, सोलर इंवर्टर का सबसे बड़ा लाभ पर्यावरण को होता है, क्योंकि ऐसे उपकरण बिना किसी प्रदूषण को उत्पन्न किए ही कार्य करते हैं, जिससे वातावरण में उपस्थित कार्बन फुटप्रिन्ट को कम किया जा सकता है, एवं हरित भविष्य की कल्पना की ओर बढ़ा जा सकता है, ऐसे उपकरणों पर किए गए निवेश को बुद्धिमानी का निवेश कहते हैं, क्योंकि एक बार निवेश करने के बाद इनका प्रयोग लंबे समय तक किया जा सकता है।

यह भी देखें:गर्मी आने से पहले लगवाएं 1kw Solar Panel, Zero करें बिजली बिल!

1kw Solar Panel लगवाएं गर्मी आने से पहले, Zero करें बिजली बिल!

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें