5 किलोवाट सोलर सिस्टम: सबसे कम कीमत में लगवाओ इंडिया का सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी सोलर सिस्टम

5 किलोवाट के एडवांस सोलर सिस्टम से आप अपनी बिजली की सभी जरूरतों को आसानी से पूरा कर सकते है। ऐसे सिस्टम पर 30 वर्ष की वारंटी प्रदान की जाती है।

Published By News Desk

Published on

नवीकरणीय ऊर्जा के माध्यम से बिजली प्रदान करने वाले उपकरणों की तकनीक में प्रतिदिन तेजी आ रही है, पारंपरिक उपकरणों को स्थापित करने के लिए अधिक स्थान भी चाहिए होता है, और वे कम दक्षता के साथ उपलब्ध रहते हैं। ऐसे में एडवांस तकनीक के विकास से नागरिकों को नवीकरणीय ऊर्जा के लाभ प्राप्त करने में आसानी होती है। सूर्य ऊर्जा का एक बड़ा प्राकृतिक भंडार है, जो प्रचुर मात्रा में अपनी ऊर्जा प्रदान करता है। सौर ऊर्जा से प्राप्त होने वाली सौर ऊर्जा से बिजली प्राप्त करने के लिए सोलर सिस्टम का प्रयोग किया जाता है। 5 किलोवाट सोलर सिस्टम को कम कीमत पर लगाने की जानकारी यहाँ देखें।

5 किलोवाट सोलर सिस्टम: सबसे कम कीमत में लगवाओ इंडिया का सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी सोलर सिस्टम
5 किलोवाट सोलर सिस्टम

इस लेख के माध्यम से हम आपको 5 किलोवाट सोलर सिस्टम (5Kva Solar System) की जानकारी प्रदान करेंगे। जिसमें लगने वाले सोलर इंवर्टर से आप घर के सभी उपकरण संचालित कर सकते हैं। इस साल सोलर सिस्टम की कीमत में कमी आई है। हम आपको बताएंगे आप कैसे 5 किलोवाट का एडवांस सोलर सिस्टम सस्ते में लगा सकते हैं। उस से पहले आपको 5 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम की पूरी जानकारी होनी चाहिए, जिस से आप यह जान सकते हैं कि क्या आपको 5 किलोवाट क्षमता के सोलर सिस्टम की आवश्यकता है या उससे अधिक या कम क्षमता के सोलर सिस्टम की।

5 किलोवाट सोलर सिस्टम कहाँ स्थापित किया जा सकता है?

5 किलोवाट क्षमता का सोलर सिस्टम ऐसे नागरिकों के लिए उपर्युक्त हैं, जिनके घर या अन्य प्रतिष्ठान में बिजली का मासिक लोड 800 यूनिट से 1,000 यूनिट तक रखता है। यदि हम उपकरणों की बात करें तो ऐसे घर जिनमें 2 या 3 AC (एयर कंडीशनर) एवं अन्य उपकरणों का प्रयोग होता है, उनमें Nexus 5 किलोवाट सोलर सिस्टम (Nexus 5Kva Solar System) का प्रयोग किया जा सकता है। सोलर सिस्टम में मुख्य रूप से सोलर पैनल, इंवर्टर एवं बैटरी का प्रयोग किया जाता है। उपकरणों का प्रयोग ऑनग्रिड, ऑफग्रिड या हाइब्रिड सोलर सिस्टम के अनुसार किया जाता है।

आप इस लेख में ऑफग्रिड एवं हाइब्रिड सोलर सिस्टम की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, ऑनग्रिड सोलर सिस्टम में बैटरी का प्रयोग न करके पैनल से बनने वाली बिजली को इलेक्ट्रिक ग्रिड के साथ साझा किया जाता है। ऑफग्रिड सोलर सिस्टम एवं हाइब्रिड सोलर सिस्टम में पावर बैकअप के लिए सोलर बैटरी का प्रयोग किया जाता है। ऐसे सोलर सिस्टम को आप पूरी तरह से स्थापित कर के बिजली के कनेक्शन को हटा सकते हैं। Nexus Stark 5 Kva/48 V Super Solar PCU एवं Nexus Inno 5 Kva/48 V Super Solar PCU के साथ ही आप लिथियम और लेड एसिड बैटरी की जानकारी देख सकते हैं।

Nexus Stark 5 Kva/48 V Super Solar PCU

यह एक पारंपरिक सोलर इंवर्टर है। इस इंवर्टर का प्रयोग वे नागरिक प्रयोग कर सकते हैं, जो 1 या 1.5 टन के एक या दो एयर कंडीशनर का प्रयोग करते हैं, इस सोलर इंवर्टर के साइज़ का बड़ा होने का कारण इसका ट्रांसफार्मर टेक्नोलॉजी का होना है। इस इंवर्टर का पावर फैक्टर 0.8 है। यदि पावर फैक्टर को KVA से गुणा कर दिया जाए तो यह 4 किलोवाट का PCU बन जाता है। लेकिन इस इंवर्टर पर 5 किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल का प्रयोग किया जा सकता है, क्योंकि इस इंवर्टर में 5 किलोवाट का कंट्रोलर प्रयोग किया गया है।

इस सोलर इंवर्टर से सोलर पैनल जोड़ने के लिए 230 वोल्ट कि SPV रेंज चाहिए होती है। अतः आप इस सोलर इंवर्टर पर सोलर पैनल को सीरीज में जोड़ सकते हैं। इस सोलर इंवर्टर से 3.5 Kva का लोड आसानी से चलाया जा सकता है। इस सोलर PCU का प्रयोग करने पर आप लिथियम आयन की एक बैटरी या आप अपनी आवश्यकता के अनुसार अधिकतम 8 लेड एसिड बैटरियों को इस सोलर इंवर्टर से जोड़ सकते हैं। इस सोलर इंवर्टर का पहला लाभ यही है कि इस पर लिथियम या लेड एसिड दोनों प्रकार की बैटरी का प्रयोग हो सकता है। यह MPPT (Maximum Power Point Tracking) तकनीक का सोलर इंवर्टर है।

Nexus Inno 5 Kva/48 V Super Solar PCU

यह सोलर इंवर्टर भी 5 किलोवाट का है। लेकिन इसका साइज़ Nexus Stark 5 Kva/48 V Super Solar PCU से बहुत छोटा होता है। यह Super MPPT तकनीक का सोलर इंवर्टर है। इस सोलर PCU का पावर फैक्टर 1 है। जिस से आप यह समझ सकते हैं कि 5 KVA का पीसीयू 5 KVA का सोलर PCU बन जाता है। इस पर 5 किलोवाट के सोलर पैनल जोड़े जा सकते हैं। यह पारंपरिक सोलर पीसीयू से 1 किलोवाट ज्यादा लोड चला सकता है। इस इंवर्टर के द्वारा 1.5 टन के दो एयर कंडीशनर आसानी से चलाए जा सकते हैं।

यह हाइब्रिड सोलर सिस्टम में प्रयोग होने वाला इंवर्टर है इस पर नागरिक चाहे तो बैटरी जोड़ भी सकते हैं या इसे बिना बैटरी के ग्रिड के साथ भी प्रयोग कर सकते हैं। यदि आप बैटरी का प्रयोग करना चाहते हैं तो आप लिथियम बैटरी या लेड एसिड बैटरी का प्रयोग कर सकते हैं। नागरिक अपनी पावर बैकअप की आवश्यकता के अनुसार अधिकतम 16 लेड एसिड बैटरियों को अपने सोलर सिस्टम में प्रयोग कर सकते हैं। या 4 लिथियम बैटरियों को अपने सोलर सिस्टम में जोड़ सकते हैं। इस लेड एसिड बैटरी में 4 को सीरीज में एवं 4 को समांतर क्रम में जोड़ा जा सकता है। Nexus Inno 5 Kva48 V Super Solar PCU

Nexus Inno 5 Kva/48 V Super Solar PCU की विशेषताएं

इस सोलर पीसीयू की विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

  • Nexus Inno 5 Kva/48 V Super Solar PCU में 80 एम्पियर की चार्जिंग दी गई है। इसलिए इसमें अधिक बैटरियों को जोड़ा जा सकता है।
  • यह एक एडवांस हाइब्रिड सोलर पीसीयू है, इसमें किसी प्रकार की विद्युत हानि नहीं होती है। यह क्षमता के अनुसार कार्य प्रदर्शन करता है।
  • इस पर 5 किलोवाट क्षमता से अधिक क्षमता के सोलर पैनल भी जोड़े जा सकते हैं। इस पीसीयू पर अनेक एडवांस फीचर्स प्रदान किये गए हैं। जैसे वाईफाई या रिमोट से नियंत्रित किया जा सकता है।
  • इस सोलर पीसीयू के साथ 8 सोलर पैनल को सीरीज में जोड़ा जा सकता है।

Nexus Lithium Battery Vs Nexus Led Acid Battery

नागरिक अपने सोलर सिस्टम में अपनी पावर बैकअप की आवश्यकताओं एवं बजट के अनुसार बैटरी का चयन कर सकते हैं। सोलर सिस्टम में सिर्फ C10 बैटरी का ही प्रयोग किया जाता है। हम आपको इसमें दोनों बैटरियों के अंतर को बताएंगे। जो इस प्रकार है:-

यह भी देखें:Solar AC: सिर्फ दो सोलर प्लेट से चलेंगे घर के सभी AC, अभी जाने कैसे

सिर्फ दो सोलर प्लेट से चलेगा Solar AC, जानें पूरी जानकारी

Nexus Lithium Battery

  • Nexus 48V/100Ah Lithium Battery का प्रयोग करने पर विद्युत संग्रहीत करने या संग्रहीत बिजली का प्रयोग करने में किसी प्रकार की कोई हानि नहीं होती है।
  • Nexus Lithium Battery पर उपभोक्ता को 15 साल की वारंटी प्रदान की जाती है। यदि बैटरी पहले 3 साल में खराब हो जाती है, तो फ्री में आपको नई बैटरी प्रदान की जाती है, यदि उसके बाद 12 साल में बैटरी खराब होती है, तो आपको आप 50% के डिस्काउंट में नई बैटरी खरीद सकते हैं।

Nexus Led Acid Battery

  • लेड एसिड बैटरियों में लगभग 50% का पावर लॉस होता है। इसे आप ऐसे समझे कि आप इस बैटरी में यदि 9 यूनिट बिजली संग्रहीत करते हैं तो आप इस से वापस सिर्फ 4 यूनिट बिजली ही प्राप्त कर सकते हैं।
  • लेड एसिड बैटरियों को आप अधिक मात्रा में सोलर सिस्टम में स्थापित करते हैं।

Nexus C10 बैटरी का प्रयोग भी आप अपने सोलर सिस्टम में कर सकते हैं, यह एक पारंपरिक बैटरी है। यदि यह बैटरी पहले 3 साल में खराब होती है, तो आप फ्री में इसे बदल सकते हैं। तथा उसके 2 साल बाद यदि यह खराब होती है तो आप 50% की छूट पर नई बैटरी बदल सकते हैं।

5 किलोवाट सोलर सिस्टम में सोलर पैनल

आप अपने सोलर सिस्टम में Nexus M-10 N-Type बाइफेशियल सोलर पैनल प्रयोग कर सकते हैं। यह एक एडवांस तकनीक का सोलर पैनल होता है। यह N-Type टॉप-कन प्रकार के सोलर पैनल से अधिक शक्तिशाली तकनीक है। नागरिक अपने सोलर सिस्टम में Nexus M-10 N-Type BIF के 580 क्षमता के सोलर पैनल का प्रयोग करते हैं। इस सोलर पैनल पर उपभोक्ता को Nexus द्वारा 30 वर्ष की वारंटी प्रदान की जाती है। इस सोलर पैनल द्वारा हर मौसम में बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। निर्माता ब्रांड द्वारा यह कहा गया है कि इस सोलर पैनल से साल के 365 दिन ही बिजली का उत्पादन किया जा सकता है।

5 किलोवाट सोलर सिस्टम की कीमत

यदि आप इस सोलर सिस्टम को लगाना चाहते हैं, तो इसे लगाने में उपभोक्ता निम्न प्रकार से पैक को प्रयोग कर सकते हैं, जिनके अनुसार ही उनकी कीमत की जानकारी देखी जा सकती है:-

सामान्य तकनीक का सोलर सिस्टम

  • Nexus M-10 N-Type के 8 बाइफेशियल सोलर पैनल (580 वाट)
  • Nexus Stark 5 Kva/48 V Super Solar PCU
  • 5 Nexus लेड एसिड बैटरी
  • 5 किलोवाट क्षमता के सामान्य तकनीक के सोलर सिस्टम की कीमत लगभग 2,44,000 रुपये तक होती है।

एडवांस तकनीक का सोलर सिस्टम

  • Nexus M-10 N-Type के 8 बाइफेशियल सोलर पैनल (580 वाट)
  • Nexus Inno 5 Kva/48 V Super Solar PCU
  • 80 Ah Nexus लिथियम आयन बैटरी
  • 5 किलोवाट क्षमता के एडवांस तकनीक के सोलर सिस्टम की कीमत लगभग 2,98,000 रुपये तक होती है।
  • यदि उपभोक्ता 100 Ah की लिथियम आयन बैटरी को अपने सोलर सिस्टम में जोड़े तो तब सोलर पैक की कीमत लगभग 3,17,000 रुपये तक हो सकती है।

(नोट: हमारे द्वारा उपरोक्त दी गई कीमतों में GST एवं इंस्टालेशन की कीमत को शामिल नहीं किया गया है, सोलर सिस्टम के इंस्टालेशन की कीमत उपभोक्ता के स्थान के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। अधिक जानकारी के लिए आप Nexus की आधिकारिक वेबसाइट में जा सकते हैं। उपरोक्त सोलर सिस्टम को स्थापित करने पर उपभोक्ता सुरक्षा उपकरणों को आवश्यक रूप से स्थापित करें)

निष्कर्ष

इस प्रकार आप इस लेख के माध्यम से भारत में सबसे कम कीमत के 5 किलोवाट सोलर सिस्टम को लगाने, उसमें प्रयोग होने वाले उपकरणों एवं कुल कीमत की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 5 किलोवाट सोलर सिस्टम के पैक का प्रयोग आप अपने बजट के अनुसार कर सकते हैं। इस सिस्टम में दिए जाने वाले उपकरणों पर आपको लंबे समय तक प्रयोग करने के लिए वारंटी प्रदान की जाती है। ऐसे सोलर सिस्टम से आप इलेक्ट्रिक ग्रिड की निर्भरता को खत्म कर सकते हैं। और पर्यावरण को सुरक्षित रखने में अपना सहयोग प्रदान कर सकते हैं। सोलर सिस्टम के प्रयोग से ही हरित भविष्य की कल्पना को साकार किया जा सकता है।

यह भी देखें:गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल

गांव के घरों के लिए और दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर पैनल

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें